येदियुरप्पा की मुसलमानों से अपील, भाजपा का साथ दीजिए

विजयपुराः कर्नाटक के पूर्व मुख्यमंत्री बीएस येदियुरप्पा ने प्रदेश में उपचुनावों के मद्देनजर गुरुवार को मुस्लिम मतदाताओं से भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) का यह कहते हुए साथ देने की अपील की कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व वाली सरकार की ओर से लागू की गयी विभिन्न केंद्रीय योजनाओं से अल्पंसख्यकों समेत सभी समुदायों के लोग लाभान्वित हुए हैं।

बीएस येदियुरप्पा ने यहां संवाददाताओं से कहा, “ मैंने अपने राजनीतिक करियर में मुसलमानों के साथ कोई अन्याय नहीं किया है। कृपया मुझे ऐसा एक उदाहरण दें , जहां नरेंद्र मोदी सरकार द्वारा शुरू की गई योजनाओं से केवल हिंदुओं को फायदा हुआ हो और मुसलमानों को कोई लाभ नहीं मिला हो।”

उन्होंने कहा, “ मैं मुसलमानों से इतना ही कहना चाहता हूं कि प्रधानमंत्री ने मुस्लिम समेत सभी समुदायों के लिए कई योजनाएं शुरू की हैं। इसलिए मैं इन मतदाताओं से इस सच्चाई को जानने तथा भाजपा का साथ देने की अपील करता हूं।”

पूर्व मुख्यमंत्री ने विशेष रूप से प्रधानमंत्री की पांच करोड़ छात्रवृत्ति प्रदान करने, अल्पसंख्यक बहुल क्षेत्रों में स्कूलों और कॉलेजों के निर्माण के साथ-साथ कौशल विकास जैसे कार्यक्रमों के जरिए अल्पसंख्यकों को 25 लाख नौकरियां प्रदान करने की योजना का उल्लेख किया।उन्होंने प्रधानमंत्री के उस बयान का भी संकेत किया कि मुसलमानों को वोट बैंक के रूप में देखने के बजाय अपना समझा जाना चाहिए।

कांग्रेस और जनता दल(सेक्युलर) नेताओं के आरएसएस पर जबानी हमला करने के संबंध में बीएस येदियुरप्पा ने कहा विपक्ष के पास सत्तारूढ़ दल को हराने के लिए कोई मुद्दा नहीं है, इसलिए वे मुस्लिम मतदाताओं को खुश करने के लिए आरएसएस पर हमला कर रहे हैं। उन्होंने जोर दिया कि जनता दल (सेक्युलर) नेता एचडी कुमारस्वामी तथा अन्य विपक्षी नेताओं को आरएसएस की आलोचना करने का कोई अधिकार नहीं है जो देश की भलाई के लिए जन सेवा कर रहा है।

कांग्रेस नेता सिद्धारमैया के इन आरोपों पर कि जनता दज(सेक्युलर) भाजपा की बी-टीम है, बीएस येदियुरप्पा ने कहा कि अगर ऐसा होता तो एचडी देवेगौड़ा खुद उपचुनाव के लिए प्रचार नहीं करते। उन्होंने कहा, “ किसी को भी किसी पार्टी के बारे में सस्ते में नहीं बोलना चाहिए। कम से कम मैं इस आरोप से सहमत नहीं हूं कि जनता दल (सेक्युलर) भाजपा की बी-टीम है।”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *