शिक्षक भर्ती के अभ्यर्थियों पर हुए लाठीचार्ज पर बोले वरूण, सोचिए! क्या ये आपके बच्चे होते तो इनके साथ यही व्यवहार होता।

0
117

लखनऊ: उत्तर प्रदेश में विधानसभा चुनाव के नजदीक आने के साथ ही अपनी ही पार्टी की सरकार पर हमले तेज करते जा रहे भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) सांसद वरूण गांधी ने लखनऊ में शिक्षक भर्ती के अभ्यर्थियों पर पुलिस लाठीचार्ज की निंदा करते हुये कहा कि रिक्तियों होने के बावजूद योग्य अभ्यर्थियों की भर्तियां क्यो नहीं की जा रही हैं।

वरूण ने रविवार को लखनऊ में शनिवार रात युवाओं पर लाठीचार्ज का वीडियो शेयर करते हुये ट्वीट किया“ ये बच्चे भी मां भारती के लाल हैं, इनकी बात मानना तो दूर, कोई सुनने को तैयार नहीं है। इस पर भी इनके ऊपर ये बर्बर लाठीचार्ज।” उन्होने सवालिया लहजे में कहा “अपने दिल पर हाथ रखकर सोचिए क्या ये आपके बच्चे होते तो इनके साथ यही व्यवहार होता। आपके पास रिक्तियां भी हैं और योग्य अभ्यर्थी भी, तो भर्तियां क्यों नहीं।”

गौरतलब है कि पिछले एक सप्ताह के दौरान वरूण का योगी सरकार पर यह तीसरा हमला है। इससे पहले यूपीटीईटी परीक्षा लीक मामले में सरकार पर तंज कस चुके है। पिछले रविवार को शिक्षक पात्रता परीक्षा (टीईटी) पेपर लीक होने के बाद उन्होने इसे युवाओं के भविष्य के साथ खिलवाड़ बताते हुये आरोपियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की मांग की थी जबकि तीन दिन पहले उन्होने पेपर लीक मामले में ही एक अन्य ट्वीट में कहा था “ पहले तो सरकारी नौकरी ही नहीं है, फिर भी कुछ मौका आए तो पेपर लीक हो, परीक्षा दे दी तो सालों साल रिजल्ट नहीं, फिर किसी घोटाले में रद्द हो। रेलवे ग्रुप डी के सवा करोड़ नौजवान दो साल से परिणामों के इंतज़ार में हैं। सेना में भर्ती का भी वही हाल है। आखिर कब तक सब्र करे भारत का नौजवान।”

उल्लेखनीय है कि 69 हजार शिक्षक भर्ती में लंबित भर्तियों को बहाल करने की मांग को लेकर अभ्यर्थियों के एक समूह ने लखनऊ में कल रात केंडिल मार्च निकाला जिसे रोकने के लिये पुलिस ने उन पर लाठियां भांजी। पुलिस की इस कार्रवाई की बहुजन समाज पार्टी (बसपा) अध्यक्ष मायावती समेत अन्य ने भर्त्सना की है।