देश

‘मुस्कान’ का दर्द, ‘लव जिहाद के नाम पर मेरे बच्चे दुनिया में आने पहले ही…’

मुरादाबाद/कांठः मानवाधिकार संगठन NCHRO की एक फैक्ट फाइंडिंग टीम ने जिला मुरादाबाद के कांठ शहर का दौरा किया जहां लव जिहाद के नाम पर एक युवती को इतना टॉर्चर किया गया कि उसका गर्भपात हो गया और उसके पति व जेठ अभी भी न्यायिक हिरासत में है। NCHRO की टीम जब पीड़ित परिवार के घर पहुंची तो पीड़िता अपनी एक रिश्तेदार के साथ तभी अस्पताल से आई थी उसे गाड़ी से दो महिलाओं ने सहारा देकर उतारा।

पीड़िता मुस्कान उर्फ पिंकी ने टीम को बताया है कि उसने 24 जुलाई को देहरादून में राशिद से शादी की थी. वो पाँच दिसंबर को कांठ (मुरादाबाद) में अपनी शादी का पंजीकरण कराने के लिए आए थे, वो शादी का रजिस्ट्रेशन कराने रजिस्ट्रार ऑफिस जा रहे तो रविदास मंदिर के पास ही उन्हें एक हिंदूवादी संगठन के लोगो ने घेर लिया और पीड़िता व उसके पति के साथ गाली गलौज व मारपीट की और पुलिस को बुला लिया, पीड़िता उसके पति व जेठ को पुलिस थाने ले गई और पाँच दिसंबर को रात ढाई बजे मुझे नारी निकेतन भेजा गया.

मुस्कान बताती है कि मुझे 7 सप्ताह का गर्भ था नारी निकेतन में मुझे गंदे कमेंट्स किये और बहुत टॉर्चर किया गया जिस कारण मेरे पेट में दर्द होने लगा तबीयत ज़्यादा बिगड़ी तो मुझे अस्पताल ले जाया गया जहां डॉक्टरों   मुझे कई इंजेक्शन लगाए लेकिन कोई आराम नही हुआ बल्कि बहुत ज्यादा ब्लीडिंग होने लगी जिस कारण मेरा गर्भपात हो गया, मेरा बच्चा दुनिया मे आने से पहले ही मार दिया गया।

लड़के की बुआ ने बताया है कि हम डरे हुए हैं हमारे दो बेटे जेल में है जबकि हमने कोई जुर्म नही किया है फिर भी हमारे बच्चों के साथ ऐसा सलूक किया जा रहा है पीड़ित परिवार ने न्याय की गुहार लगाई और अपने बेटों की रिहाई मांग की है! इस घटना के सिलसिले में टीम ने पुलिस का पक्ष जानने का प्रयास किया किंतु थानाध्यक्ष कांठ से वार्ता नही हो पाई! फैक्ट फाइंडिंग टीम का नेतृत्व NCHRO उत्तर प्रदेश पश्चिम के जॉइंट कन्वीनर मसरूफ कमाल एडवोकेट ने किया टीम में NCHRO के सदस्य जे.ए. फ़ैज़ी, इरफान अंसारी, मोहम्मद अफजाल मौजूद रहे।