देश

सुरेश चव्हाणके को सुप्रीम कोर्ट से लगा तगड़ा झटका, कोर्ट ने लगाई विवादित कार्यक्रम के प्रसारण पर रोक

नई दिल्लीः  दिल्ली हाईकोर्ट के बाद विवादित एंकर सुरेश चव्हाणके को सुप्रीम कोर्ट से बड़ा झटका लगा है। उसके चैनल ‘सुदर्शन’ चैनल के विवादित शो के प्रसारण पर सुप्रीम कोर्ट ने अगले आदेश तक रोक लगा दी है। शो का नाम ‘बिंदास बोल’ है। इसके प्रोमो में सुरेश चव्हाणके ने ‘यूपीएससी जिहाद’, ‘नौकरशाही जिहाद’ का पर्दाफाश करने का दावा किया था। इस पर सुनवाई करते हुए सुप्रीम कोर्ट के जस्टिस डीवाई चंद्रचूड़ और जस्टिस केएम जोसेफ की बेंच ने कहा कि ऊपरी तौर पर यही लगता है कि इस कार्यक्रम का मकसद मुस्लिमों की गलत छवि प्रस्तुत करना है।

सुप्रीम कोर्ट ने कहा, ‘प्रोग्राम में मुस्लिमों की अपर एज लिमिट और वो कितनी बार परीक्षा दे सकते हैं, इसे लेकर कई फैक्चुअली गलत दावे किए गए हैं। सभी समुदायों का को-एग्जिस्टेंस लोकतंत्र का मूल है। ऐसे में किसी भी धर्म को विलेन की तरह प्रस्तुत करने की कोशिश का समर्थन नहीं किया जा सकता है।’ कोर्ट ने कहा कि अगले आदेश तक सुदर्शन न्यूज़ टीवी अपने शो के बचे हुए एपिसोड प्रसारित नहीं कर सकता है। नाम बदलकर भी प्रसारण करने पर रोक रहेगी। फैसला सुनाते हुए जस्टिस डीवाई चंद्रचूड़ ने ये भी कहा कि वो पांच नागरिकों की एक ऐसी कमिटी बनाने पर भी विचार कर रहे हैं, जो इलेक्ट्रॉनिक मीडिया के लिए कुछ स्टैंडर्ड तय कर सके।

बता दें कि सुदर्शन का चैनल सुरेश चव्हाणके विवादित एंकर है। जिसके निशाने पर सिर्फ एक समुदाय विशेष ही रहता है।  तब्लीगी जमात प्रकरण पर भी इसी के द्वारा कोरोना बम जैसी शब्दावली का प्रयोग किया गया था। सुरेश चव्हाणके पर अक्सर फेक न्यूज़ फैलाने के आरोप लगते रहे हैं।

Facebook Comments