चर्चा में विदेश

तो अब पाकिस्तान की जगह टर्की ने ले ली है?

नितेश सक्सेना

और अगले दिन पाकिस्तान की जगह टर्की ने ले ली। हो सकता है टर्की को डराने के लिये छोटे अमबानी को पार्टी बनाकर “200 राफेल विद प्री इंस्टाल्ड नींबू मिर्ची टोटका ” भी आर्डर कर दिये जायें। आमिर को टर्की की फर्स्ट लेडी से मिलने को लेकर उन्हें 8789 वीं बार देशद्रोही घोषित किया जा चुका था । यदि कोई इंसान किसी कलाकार का प्रसंशक है तो मिलना तो चाहेगा ही । जैसे मोदी जी अनंत अमबानी तक से मिल लेते हैं ।

आमिर देशद्रोही कैसे हो गया ?

“एक्स्ट्रा 2AB” वाले राष्ट्रवादी लॉजिक के हिसाब से तो ब्रूस ली ,जैकी चैन कि फिल्म देखने वाले भी देशद्रोही हुए । मनीषा कोइराला की “एक छोटी सी लव स्टोरी” देखने वाले भी बड़के देशद्रोही हुऐ । सब देश द्रोही है इस देश में। बस “चांदनी चौक टू चाईना” जैसी वाहियात मूवी झेलने वाले देशभक्त हैं …..कैनेडा के । हां एक और बात पाकिस्तान को F-16 जेट देने वाला दोलांड इंडिया का दोस्त है । ये कैसा दोस्त है भाई? आपकी विदेश नीतिओ की वजह से आज एक भी पड़ोसी देश सीधे मुँह बात नही कर रहा है । अब आपको और दुश्मन चाहिये?

दरअसल हो हल्ला इसलिये है कि लोग आमिर ,सुशांत,रिया आदि में ही उलझे रहें। आप को लग रहा होगा कि आमिर को देशद्रोही कहने वाले भी कैसे मूर्ख लोग हैं। लेकिन मित्रो सच बात ये है कि वो डेढ़ शाने है । सरकार से कोई बेरोजगारी, बाढ़, कोरोना ,इकॉनमी, रेलवे पर सवाल ना पूछ लें इसलिये वो इस तरह की बाते लगातार करते रहेंगे। लेकिन फ्री में प्रचार तो आमिर का ही हो रहा है। आमिर खान की फ़िल्म “लाल सिंह चड्ढा” 1994 में रिलीस हुई टॉम हैंक्स की मूवी “फारेस्ट गंप” से प्रेरित है।

फारेस्ट गम्प की imdb रेटिंग 8.8/10 है । इससे अंदाजा लगा सकते है आप की मूवी का लेवल क्या होगा। लाल सिंह चड्ढा आमिर की एक कामयाब मूवी होने जा रही है। नारंगी खटमलों ने तैयारी शुरू कर दी है पर परिणाम PK वाला ही होने जा रहा है । एक अद्भुत फ़िल्म के लिये तैयार रहें। “कला ,विज्ञान ,आध्यात्म पर कोई सरहद लगाम नही लगा सकती।”

(लेखक स्वतंत्र टिप्पणीकार हैं)

Facebook Comments