मौलाना कलीम सिद्दीकी को मानवीय आधार पर कानूनी हर प्रकार की क़ानूनी मदद देगी पीस पार्टी: शादाब चौहान

नई दिल्ली: यूपीएटीएस द्वारा धर्मांतरण कराने के आरोप में गिरफ्तार किए गए मौलाना कलीम सिद्दीक़ी को पीस पार्टी ने क़ानूनी सहायता प्रदान करने का ऐलान किया है। पीस पार्टी प्रवक्ता इंजीनियर शादाब चौहान ने जानकारी देता हुआ बताया कि पीस पार्टी ने यह फैसला किया है कि हम मौलाना कलीम सिद्दीकी साहब व उनके साथियों को हर प्रकार की कानूनी व दूसरी जरूरी सहायता देने के लिए तैयार हैं क्योंकि उनको असंवैधानिक तरीके से गिरफ्तार किया गया है जिसमें मौलिक अधिकारों का भी हनन हुआ है।

 

शादाब चौहान ने कहा कि मौलाना कलीम सिद्दीकी गिरफ्तारी से एक समाज को टारगेट करने का प्रयास प्रतीत होता है एवं यह भी प्रतीत होता है कि पुलिस प्रशासन की यह कार्रवाई संप्रदायिकता से प्रेरित है बीजेपी सरकार के दबाव में हो सकता है राजनीतिक लाभ के लिए भी हो।

उन्होंने कहा कि पीस पार्टी हमेशा मानवता और न्याय को सर्वोपरि रखती है इसीलिए माननीय राष्ट्रीय अध्यक्ष जी की सहमति से यह फैसला हमने लिया है की मजलूमो की पूरी सहायता की जाएगी जिससे दूध का दूध पानी का पानी हो सके और कोई बेगुनाह 15 या 20 साल जेल में ना गुजारे मालेगाव और मक्का मस्जिद बम धमाकों में उठाए गए मुस्लिम लड़कों की तरह।

शादाब ने कहा कि पिछले दिनों बहुत से केसेस में देखा गया है कि कोई एजेंसी पढ़े लिखे काबिल मुसलमानों को आतंकवाद के आरोप में उठाती है और वह बाद में जाकर 20 साल बाद बरी होते हैं जिससे उनकी पूरी जिंदगी तबाह हो जाती है हमारा संकल्प है किसी के साथ अन्याय ना हो।