मुस्लिम उत्पीड़न की ज़िम्मेदार हैं सेक्युलर दलों की खामोशीः अमानतुल्लाह ख़ान

0
161

नई दिल्लीः आम आदमी पार्टी द्वारा चलाए जा रहे “आपका विधायक, आपके द्वार” अभियान के तहत गुरूवार को ओखला विधायक अमानतुल्लाह ख़ान ने एक जनसभा को संबोधित किया। इस दौरान उन्होंने आम आदमी पार्टी की उपलब्धियां तो गिनाईं हीं, साथ ही साथ सांप्रदायिकता के ख़िलाफ बेबाकी से अपनी बात रखी। उन्होंने धर्मांतरण के नाम पर होने वाली मुस्लिम धर्म गुरूओं की गिरफ्तारी पर चिंता व्यक्त की। उन्होंने कहा कि आज देश में जो हालात हैं वे किसी से छिपे नहीं हैं, लगातार मुसलमानों को प्रताड़ित किया जा रहा है। अपनी बेबाक बयानी के लिये जाने जाने वाले ओखला विधायक ने कहा कि मौलाना कलीम सिद्दीक़ी जैसे बुजुर्ग धर्म गुरू, जिनके चाहने वाले लाखों की संख्या में मौजूद हैं,उन्हें धर्मांतरण जैसे फर्जी आरोप में जेल भेज दिया गया, लेकिन किसी भी तथाकथित सेक्युलर दल के नेता की इस पर ज़बां तक नहीं खुली।

जिसे वोट देते हैं वो हमारे साथ नहीं

अमानतुल्लाह ख़ान ने कहा कि भाजपा की सरकार में मुसलमानों का उत्पीड़न होता है, इस उत्पीड़न से बचने के लिये मुसलमान सेक्युलर पार्टियों को वोट करते हैं, लेकिन सेक्युलर पार्टियां भी मुस्लिम उत्पीड़न पर चुप्पी साध लेती हैं। अमानतुल्लाह ख़ान ने सवाल किया कि आख़िर मुसलमानों का कसूर क्या है? वे कहां जाएं? आज़ादी के आंदोलन में मुसलमान साथ खड़े थे, 1857 के संग्राम के बाद दिल्ली से लाहौर तक कोई पेड़ ऐसा नहीं था जिस पर किसी उलेमा की लाश न लटकी हो, लेकिन आज उसी समाज को प्रताड़ित किया जा रहा है। आरएसएस और भाजपा के लोग जो, जंग ए आज़ादी के आंदोल के ख़िलाफ थे लेकिन आज वही लोग मुसलमानों पर अत्याचार कर रहे हैं। मुस्लिम बुद्धिजीवियों को निशाना बनाया जा रहा है, उलेमाओं को निशाना बनाया जा रहा है। आख़िर हमारा कसूर क्या है।

अमानतुल्लाह ख़ान ने भावुक होकर कर कहा कि हमने आज तक किसी समुदाय के ख़िलाफ, किसी धर्म के ख़िलाफ कोई बात नहीं की, किसी के ख़िलाफ नफरत नहीं फैलाई लेकिन आज हमें निशाना बनाया जा रहा है। भाजपा ने ऐसे हालात बना दिए हैं कि अगर कोई सेक्युलर पार्टी मुसलमानों पर होने वाले अत्याचार के ख़िलाफ बोल दे तो उसे राष्ट्रद्रोही बनाने की कोशिशें की जाती हैं। उन्होंने कहा कि भाजपा उत्तर प्रदेश का विधानसभा चुनाव सांप्रदायिक और नफरत का ऐजेंडा चलाकर जीतना चाहती है। कोई भी मीडिया संस्थान देश में बढ़ती कमर तोड़ मंहगाई पर बात नहीं करता, बेरोजगारी पर बात नहीं करता, सब नफरत का ऐजेंडा चलाने में लगे हुए हैं।

तो मैं घर बैठ जाऊंगा

अमानतुल्लाह ख़ान ने कहा कि आज मुझे सांप्रदायिक कहा जाता है। क्या अत्याचार के ख़िलाफ बोलना सांप्रदायिक होना है? उन्होंने कहा कि मैं अत्याचार के ख़िलाफ बोलता हूं, उसके ख़िलाफ आप बोलना शुरू कर दीजिए मैं घर बैठ जाऊंगा। उन्होंने कहा कि अगर आप हिंदुवादी हैं तो अत्याचार के ख़िलाफ क्यों नहीं बोलते। मुसलमानों का उत्पीड़न हो रहा है क्या उसके ख़िलाफ बोलना अपराध है। ओखला विधायक ने कहा कि मैंने अपने पूरे राजनीतिक करियर में कभी किसी धर्म, किसी जाति पर सांप्रदायिक टिप्पणी नहीं की, मेरे दरबार में जो भी आता है मैंने उससे उसकी जाति, उसका धर्म नहीं पूछा, मैंने बिना किसी भेदभाव के काम किया है, और आगे भी करता रहुंगा। उन्होंने कहा कि आज मुसलमानों पर जो अत्याचार हो रहा है उसकी ज़िम्मेदार सेक्युलर पार्टियों की खामोशी है।

ओखला की तस्वीर बदली

अमानतुल्लाह ख़ान ने भाजपा और कांग्रेस को आड़े हाथ लेते हुए कहा कि इन दोनों दलों की सरकारों में दिल्ली की जनता बिजली की समस्या से जूझती रही, लेकिन आम आदमी पार्टी की सरकार ने दिल्ली वासियों को न सिर्फ मुफ्त बिजली दी, बल्कि इस समस्या का भी समाधान कर दिया।

ओखला विधायक ने कहा कि शाहीनबाग़, जामियानगर, अबुल फज़ल में बिजली की समस्या सबसे बड़ी समस्या हुआ करती थी, रात-रात भर पॉवर कट हुआ करता था लेकिन आम आदमी पार्टी की सरकार में इस समस्या से हर किसी  को निजात मिल चुकी है। उन्होंने कहा कि यहां सीवर लाइन नहीं थी, पानी की लाइन नहीं थी जिसे उनके कार्यकाल में बनाया जा रहा है। अमानतुल्लाह ख़ान ने कहा कि 15 वर्षों से भाजपा म्यूनसिपल कॉर्पोरेशन में सत्ता में है, आने वाले एमसीडी चुनाव में भाजपा को वहां से भी सत्ता से बेदखल कर देंगे तब एमसीडी को भी भ्रष्टाचार मुक्त बना दिया जाएगा।

ओखला में खत्म हुआ पुलिस का आतंकः इंजीनियर जाबिर

जामियानगर के एक होटल में आयोजित इस जनसभा को वार्ड 102-S के अध्यक्ष इंजीनियर मोहम्मद जाबिर ने भी संबोधित किया। अपने संबोधन में उन्होंने ओखला विधायक अमानतुल्लाह ख़ान के कार्यों की सराहना करते हुए कहा कि अमानतुल्लाह ख़ान से पहले के विधायकों के कार्यकाल में इस इलाक़े में पुलिस और एमसीडी की गुंडागर्दी चला करती थी। लोगों को अपने मकान बनाने के लिये बिल्डिंग मैटेरियल लग्ज़री गाड़ियों में छिपाकर ले जाना पड़ता था। लेकिन अमानतुल्लाह ख़ान के विधायक बनने के बाद इस भ्रष्टाचार पर लगाम लगी है।

जनसभा को संबोधित करते इंजीनियर मोहम्मद जाबिर

इंजीनियर जाबिर ने कहा कि कांग्रेस की सरकार में इस इलाक़े में पुलिस का आतंक रहता था, कोई त्योहार ऐसा नहीं बीतता था जब मुस्लिम युवाओं का फर्जी एनकाउंटर नहीं किया जाता हो। लेकिन अमानतुल्लाह ख़ान के विधायक बनने के बाद इस पर अंकुश लग चुका है।

Leave a Reply