देश

हार मानने के लिये तैयार नही है राजद, मुख्यमंत्री कार्यालय पर लगाए गंभीर आरोप

पटनाः बिहार चुनाव में अब एनडीए बढ़त बनाता दिख रहा है। लेकिन राजद चुनाव अधिकारियों पर गंभीर आरोप लगा रहा है। राजद का आरोप है कि मुख्यमंत्री कार्यालय चुनाव नतीजों में दखल दे रहा है। राजद ने ट्वीट किया है कि साज़िशन 4-5 घंटो तक एनडीए tally को 122 और  महागठबंधन को 96-100 के बीच रखा जाता रहा। इतना रोकने के बावजूद भी जब महागठबंधन बढ़त बनाने लगा तो मुख्यमंत्री आवास से हेर-फेर करने के लिए सीधे ज़िलाधिकारियों को फ़ोन जाने लगे। सनद रहे चुनाव करवाने वाले सभी राज्य सेवा के ही अधिकारी है।

राजद एक विधानसभा सीट का उल्लेख करते हुए ट्वीट किया है कि पहले इस सीट पर कांग्रेस उम्मीदवार को 2400 वोट से जिताया गया। नीतीश कुमार के फ़ोन के बाद रिकाउंटिंग में इन्हें मात्र 113 वोट से जिता दिया। नीतीश कुमार अपनी संख्या बढ़ाने के लिए अनैतिकता की सारे हदें पार कर रहे है। राजद का आरोप है कि मुंगेर विधानसभा से जबरदस्ती राजद उम्मीदवार के पोस्टल बैलेट को रद्द किया जा रहा है और चार EVM की गणना ही नहीं की जा रही है।

 

राजद ने ट्वीट कर बताया कि हिलसा विधानसभा क्षेत्र से राजद प्रत्याशी शक्ति सिंह को निर्वाचन अधिकारी ने 547 वोट से विजयी घोषित कर दिया था। सर्टिफ़िकेट लेने के लिए इंतज़ार करने को कहा गया। सीएम आवास से RO को फ़ोन आता है। फिर अचानक अधिकारी कहते है पोस्टल बैलेट रद्द होने के कारण आप 13 वोट से हार गए।