Ranji Trophy: BCCI चयनकर्ताओं ने मोड़ा मुंह तो कप्तान ने खेल डाली 257 रन की नाबाद पारी

भारतीय क्रिकेट टीम में जगह बनाने के लिए रणजी ट्रॉफी को सबसे अच्छा मंच माना जाता है. भारत को नए साल की शुरुआत श्रीलंका के खिलाफ टी20 और वनडे सीरीज के साथ करनी है. मंगलवार को इन दोनों ही फॉर्मेट के लिए टीम का चयन किया गया. टीम चयन के बाद कई खिलाड़ियों ने अपनी प्रतिक्रिया दी जबकि कुछ ने बल्ले से अपना जवाब देना सही समझा. गुजरात के कप्तान ने रणजी ट्रॉफी के मुकाबले में 257 रन की नाबाद पारी खेल डाली.

चंडीगढ़ के खिलाफ खेले जा रहे रणजी मुकाबले में गुजरात के कप्तान प्रियांक पंचाल ने धमाकेदार पारी खेली. मैच के तीसरे दिन दोहरा शतक जमाने के बाद उन्होंने पारी घोषित की और दिन का खेल खत्म होने तक दो विकेट भी हासिल कर लिए. चंडीगढ़ ने पहली पारी में 304 रन बनाए थे जबकि गुजरात ने 4 विकेट पर 596 रन बनाकर पहली पारी घोषित की. कप्तान के बल्ले से नाबाद 257 रन की पारी देखने को मिली.

कप्तान ने जमाया नाबाद दोहरा शतक

प्रियांक ने चंडीगढ़ के खिलाफ पहली पारी में 257 रन की नाबाद पारी खेली. इस दौरान उन्होंने 353 गेंद का सामना किया और 22 चौके जमाए. पारी के दौरान 2 छक्के भी शामिल थे. कप्तान का साथ मनन हिंगराजिया ने देते हुए 151 रन की पारी खेल डाली. प्रियांक ने दोहरा शतक जमाने के दौरान तीन बड़ी साझेदारी निभाई.

मैच पर गुजरात ने बनाई पकड़

गुजरात की टीम ने कप्तान के दोहरे शतक के दम पर मैच में पकड़ बना ली है. तीसरे दिन का खेल खत्म होने के वक्त चंडीगढ़ की टीम ने 46 रन पर 2 विकेट गंवा दिए थे. पहली पारी के आधार पर अभी भी वो 246 रन पीछे है. चौथे दिन गुजरात के पास पारी से जीत दर्ज करने का मौका होगा.

8 thoughts on “Ranji Trophy: BCCI चयनकर्ताओं ने मोड़ा मुंह तो कप्तान ने खेल डाली 257 रन की नाबाद पारी

Comments are closed.