हफीज़ के संन्यास पर बोले रमीज़ राजा, ‘क्रिकेटर हैं जो दिलोजान से खेलते हैं…’

0
104

लाहौर: पाकिस्तान के आलराउंडर और खेल के प्रत्येक प्रारूप में देश की कप्तानी करने वाले मोहम्मद हफीज़ ने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास ले लिया है। हफीज़ ने कहा कि उन्होंने लगभग दो दशक तक चले अपने करियर के दौरान उम्मीद से अधिक हासिल किया। इस 41 वर्षीय खिलाड़ी ने 2018 में टेस्ट क्रिकेट से संन्यास ले लिया था। हफीज़ ने पाकिस्तान की तरफ से 392 अंतरराष्ट्रीय मैच खेले जिसमें 12,789 रन बनाये और 253 विकेट लिये।

पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (पीसीबी) द्वारा जारी बयान में हफीज़ ने कहा, ‘‘गर्व और संतुष्टि के साथ आज अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट को अलविदा कह रहा हूं। वास्तव में मैंने जितना शुरू में सोचा था उससे कहीं अधिक हासिल किया है और इसके लिए मैं अपने सभी साथी क्रिकेटरों, कप्तानों, सहयोगी स्टाफ और पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड का आभारी हूं।’’

उन्होंने कहा, ‘‘निश्चित तौर पर मेरा परिवार का, जिसने वैश्विक स्तर पर पाकिस्तान का प्रतिनिधित्व करने का मेरा सपना पूरा करने के लिये कई बलिदान दिये।’’ हफीज़ ने अपने देश की तरफ से 55 टेस्ट, 218 वनडे और 119 टी20 अंतरराष्ट्रीय मैच खेले। उन्होंने तीन वनडे विश्व कप और छह टी20 विश्व कप में भी पाकिस्तान का प्रतिनिधित्व किया। उन्होंने 2003 में जिम्बाब्वे के खिलाफ वनडे मैच के जरिये अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में पदार्पण किया। उनका आखिरी मैच नवंबर में टी20 विश्व कप का सेमीफाइनल था जिसमें पाकिस्तान को आस्ट्रेलिया से हार का सामना करना पड़ा था।

अपने सफल करियर के दौरान उन्हें 32 बार मैच का सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ी चुना गया तथा सर्वाधिक बार ‘प्लेयर ऑफ द मैच’ पुरस्कार पाने वाले पाकिस्तानी खिलाड़ियों में वह शाहिद अफरीदी (43), वसीम अकरम (39) और इंजमाम उल हक (33) के बाद चौथे स्थान पर हैं। इसके अलावा उन्हें नौ बार श्रृंखला में सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ी चुना गया। वह 2017 में आईसीसी चैंपियन्स ट्राफी जीतने वाली पाकिस्तानी टीम का हिस्सा थे।

पीसीबी के अध्यक्ष रमीज राजा ने इस आलराउंडर का आभार व्यक्त किया। रमीज ने कहा, ‘‘हफीज़ ऐसे क्रिकेटर हैं जो दिलोजान से खेलते हैं और जिन्होंने अपना करियर लंबा और सफल बनाने के लिये लगातार कड़ी मेहनत की।’’ पीसीबी अध्यक्ष ने कहा, ‘‘उन्होंने पूरे गौरव के साथ पाकिस्तान क्रिकेट टीम की पोशाक पहनी जिसके लिये पीसीबी उनका आभार व्यक्त करता है। मैं उन्हें भविष्य के लिये शुभकामनाएं देता हूं और पाकिस्तान क्रिकेट में उनके शानदार योगदान के लिये उनका फिर से आभार व्यक्त करता हूं।’’

पाकिस्तान सुपर लीग (पीएसएल) के आगामी टूर्नामेंट के लिये लाहौर कलंदर्स से अनुबंध करने वाले हफीज़ विश्व भर की फ्रेंचाइजी क्रिकेट के लिये उपलब्ध रहेंगे।