देश

राहुल का दावा ‘कृषि कानूनों को निरस्त करने को बाध्य होगी सरकार’

मदुरै: कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने गुरुवार को भारतीय जनता पार्टी नीत राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) सरकार पर किसानों को बर्बाद करने की साजिश रचने का आरोप लगाते हुए कहा कि सरकार को कृषि कानूनों को वापस लेने के लिए मजबूर होना पड़ेगा।

राहुल गांधी ने तमिलनाडु के संक्षिप्त दौरे के बाद यहां हवाई अड्डे पर संवाददाताओं से कहा कि सरकार ना केवल उन्हें (किसानों को) नजरअंदाज कर रही है बल्कि उन्हें बर्बाद करने की साजिश भी रच रही है। कांग्रेस नेता ने कहा, “इसमे अंतर है। उपेक्षा का मतलब आप उन्हें अनदेखा कर रहे हैं। वे (सरकार) किसानों की अनदेखी नहीं कर रहे हैं। वे उन्हें बर्बाद करने की कोशिश कर रहे हैं, क्योंकि वे अपने दो या तीन दोस्तों को लाभ पहुंचाना चाहते हैं।”

राहुल गांधी ने कहा कि सरकार किसानों की चीजों को लेकर अपने दो या तीन दोस्तों को देना चाहती है। सरकार किसानों की जमीनों और उत्पादों को हासिल कर अपने दोस्तों को देना चाहती है। उन्होंने केंद्र सरकार पर आरोप लगाया कि वह (सरकार) किसानों का दमन कर रही है और इसके एवज में मुट्ठी भर व्यवसायियों की मदद कर रहे हैं।

राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से पूछा, “जब कोरोना आता है, आप किसानों की मदद नहीं करते हैं। आप किसानों का समर्थन नहीं कर रहे हैं। क्या आप भारत के लोगों के प्रधानमंत्री हैं अथवा दो या तीन चुनिंदा व्यवसायियों के प्रधानमंत्री हैं।” उन्होंने कहा कि वह किसानों पर बहुत गर्व करते हैं और उनका पूरा समर्थन करते हैं। उन्होंने कहा कि वह उनके साथ खड़े रहेंगे। उन्होंने तीनों नये कृषि कानूनों की चर्चा करते हुए कहा, “इन कानूनों को सरकार वापस लेने के लिए मजबूर हो जाएगी।”

भारत-चीन गतिरोध की चर्चा करते हुए कांग्रेस सांसद ने पूछा कि पीएम मोदी इस तथ्य के बारे में पूरी तरह से चुप क्यों हैं कि चीनी सैनिक भारतीय क्षेत्र के अंदर बैठे हुए हैं।