देश

लॉकडाउन के दौरान लोगों की मदद करने वाले सांसदों में राहुल गांधी तीसरे नंबर पर

नई दिल्लीः लॉकडाउन के दौरान अपने संसदीय क्षेत्र में लोगों की मदद करने वाले टॉप 10 सांसदों में राहुल गांधी का शुमार किया गया है. यह जानकारी एक सर्वे में सामने आई है. इसमें टॉप पर भाजपा के उज्जैन से सांसद अनिल फिरोजिया हैं. इसके बाद YSRCP के नेल्लोर से सांसद अदाला प्रभाकर रेड्डी और तीसरे नंबर पर वायनाड से सांसद राहुल गांधी हैं. नई दिल्ली के सिटिजन इंगेजमेंट प्लैटफॉर्म गवर्नआई सिस्टम ने यह सर्वे करवाया.

यह सर्वे एक अक्टूबर को शुरू किया गया था. 25 सांसदों के पक्ष में मिले नॉमिनेशन के मुताबिक सर्वे किया गया. संसदीय क्षेत्र में लोगों की प्रतिक्रियाओं और जमीनी सर्वे से टॉप 10 सांसदों का नाम फाइनल किया गया. इसमें अनिल फिरोजिया (भाजपा), अदाला प्रभाकर रेड्डी (YSRCP), राहुल गांधी (कांग्रेस), तेजस्वी सूर्या (भाजपा), हेमंत तुकाराम गोडसे (शिवसेना), सुखबीर सिंह बादल(अकाली दल), शंकर लालवानी (भाजपा), डॉ. टी सुमति (डीएमके) और नितिन गडकरी (भाजपा) शामिल हैं.

गवर्नआई के बयान में कहा गया कि 512 लोकसभा सांसदों के लिए 33,82,560 नॉमिनेशन मिले थे. इनमें से पहले 25 को सिलेक्ट किया गया और फिर ग्राउंड सर्वे करवाया गया. सर्वे के सीनियर प्रोजेक्ट लीडर मंजुनाथ केरी ने कहा, ‘कई संसदीय क्षेत्रों में नेताओं की निस्वार्थ सेवा औऱ हिम्मत की भी कहानियां सुनने को मिलीं, हालांकि इन्हें सर्वे में शामिल नहीं किया गया है. हम बहुत सारे नेताओं के बारे में निगेटिव सुनते हैं लेकिन जब इन्होंने लोगों की इस तरह सेवा की तो उसे भी नजरअंदाज नहीं करना चाहिए.’

बता दें कि 24 मार्च को लगाए गए देशव्यापी लॉकडाउन के बाद लोगों के सामने बड़ा संकट खड़ा हो गया था. ऐसे में हर क्षेत्र के लोग गरीबों और प्रवासी मजदूरों की मदद के लिए सामने आए थे. जगह-जगह भोजन कराने और रुकने का इंतजाम किया गया था. बड़ी संख्या में मजदूर अपने गांवों की तरफ पलायन करने लगे थे. इस वजह से बड़ा संकट खड़ा हो गया. संकट के इस समय में बहुत सारे ऐसे उदाहरण हैं जिन्होंने बिना किसी स्वार्थ के, अपनी जान की परवाह किए बिना लोगों की मदद की. इस समय सांसदों और विधायकों ने भी अपने क्षेत्र के लोगों की यथासंभव मदद की. ये 10 नाम संकट के समय में लोगों का साथ देने वालों का उदाहरण देने के लिए कम नहीं हैं.