AMU की 10 वीं क्लास की परीक्षा में पूर्वी गुप्ता ने किया टाॅप, दूसरे स्थान पर रहीं तूबा

0
381

अलीगढ़: अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय ने सेकेंड्री स्कूल सर्टीफिकेट परीक्षा (दसवीं कक्षा) 2021 का परिणाम घोषित कर दिया है। परीक्षा नियंत्रक कार्यालय की ओर से घोषित परिणाम के अनुसार AMU गर्ल्स स्कूल की छात्रा पूर्वी गुप्ता ने 500 में से 495 अंक प्राप्त किए, वहीं तूबा हुसैन और प्रियांशी उपाध्याय ने संयुक्त रूप से 500 में से 491 अंक प्राप्त किए हैं।

AMU सिटी स्कूल के अभिनव कुमार और सीनियर सेकेंडरी स्कूल गर्ल्स की सारा साजिद खान ने भी 500 में से 490 अंक हासिल किए हैं। सेकेंड्री स्कूल सर्टीफिकेट परीक्षा (दसवीं कक्षा) का परिणाम आधिकारिक वेबसाइट पर अपलोड कर दिया गया है। जानकारी के लिए बता दें कि दसवीं कक्षा की परीक्षा में कुल 1438 छात्र शामिल हुए जिसमें 1355 छात्र व छात्राओं ने सफलता हासिल की। AMU कुलपति प्रोफेसर तारिक मंसूर ने छात्रों की मेहनत की सराहना करते हुए कहा कि ये परीक्षाएं कठिन समय के बीच आयोजित की गईं। उन्होंने इन कठिन समय में अच्छा प्रदर्शन करने के लिए छात्रों के प्रयासों की सराहना की।

डॉक्टर बनना लक्ष्य

अलीगढ़ के सासनी गेट में आर के पुरम की रहने वाली पूर्वी गुप्ता 500 में से 495 अंक हासिल करके प्रथम स्थान पर रहीं है। पूर्वी आगे चलकर डॉक्टर बनना चाहती हैं। वह आर्थिक रुप से कमजोर लोगों का उपचार करके उनकी मदद करना चाहती हैं। पूर्वी के पिता सिद्धार्थ शंकर गुप्ता एक व्यापारी हैं। पूर्वी के घर में उनकी एक बड़ी बहन है और छोटा भाई है। पूर्वी की सफलता पर उनकी मां शिल्पी गुप्ता सहित सभी मिलने वालो और रिश्तेदारों में खुशी की लहर है।

तूबा बनना चाहती है इंजीनियर

दूसरे स्थान पर रही तूबा हुसैन इंजीनियर बनना चाहतीं हैं। तूबा हुसैन ने 500 में से 491 अंक हासिल किए हैं। और वे दूसरे स्थान पर रहीं है। वह इंजीनियर बनना चाहती हैं। यूपी के संभल जनदप के चंदौसी की रहने वाली तूबा के पिता शाकिर हुसैन फर्नीचर के व्यापारी हैं। उनके घर में उनसे छोटी एक बहन और एक भाई है। उनकी सफलता पर मां आसमां हुसैन बेहद खुश हैं और उन्हें अपनी बेटी पर नाज़ है।

प्रियांशी उपाध्याय भी बनना चाहती है डॉक्टर 

अलीगढ़ के एटा चुंगी शिवाजी मार्ग निवासी प्रियांशी उपाध्याय ने 500 में से 491 अंक हासिल किए हैं। वह भी दूसरे स्थान पर रही है। उनके पिता मुकेश चंद्र शर्मा गोंडा में प्राथमिक विद्यालय में प्रधानाध्यापक हैं। प्रियांशी उपाध्याय का सपना आगे चलकर डॉक्टर बनने का है। उनके घर में छोटी बहन और एक भाई है। प्रियांशी की सफलता पर उनकी मां कमलेश कुमारी शर्मा सहित परिवार में खुशी का माहौल है।

तीसरे स्थान पर तीन विद्यार्थी बनना चाहते हैं चिकित्सक

AMU के दसवीं के परीक्षा परिणाम में तीसरे स्थान पर तीन विद्यार्थी रहे है। तीनों ने संयुक्त रुप से तीसरा स्थान पाया है। STS हाई स्कूल के केशव वाष्र्णेय शहर के सुरेंद्र नगर नगला तिकोना रोड पर रहते हैं। उन्होंने 500 में से 490 अंक हासिल किए हैं। केशव का सपना चिकित्सा के क्षेत्र में जाकर लोगों की सेवा करने का है। केशव के पिता विशाल कुमार वाष्र्णेय अकाउंटेंट है और मां वेदवती वाष्र्णेय बुटीक चलाती हैं। उनकी सफलता पर पूरे परिवार में खुशी की लहर है। इसी तरह AMU सिटी हाई स्कूल के अभिनव कुमार ने भी तीसरा स्थान साझा किया है। उन्होंने भी 490 अंक हासिल किए हैं।

सारा बनना चाहती है इंजीनियर

गाजियाबाद के साहिबाबाद शालीमार गार्डन की रहने वाली सीनियर सेकेंडरी गर्ल्स स्कूल की सारा साजिद खान ने तीसरा स्थान प्राप्त किया है। उन्होंने भी 490 अंक प्राप्त किए हैं। सारा के पिता साजिद अली खान डॉक्टर हैं। सारा खान भविष्य में इंजीनियरिंग में अपना कैरियर बनाना चाहती हैं। उनकी सफलता पर मां सादिया खान बेहद खुश हैं।

एएमयू गर्ल्स स्कूल की प्रिंसिपल आमना मलिक ने कहा कि एएमयू गलर्स स्कूल की छात्राओं ने पहले और दूसरे स्थान पर बाजी मारी है। इसके लिए बेटियों को बधाई देती हूं। उनके उज्जवल भविष्य की कामना करती हूं। मुझे पूरा विश्वास है कि वह अपने जीवन में बड़ा मुकाम हासिल करेंगी।

Leave a Reply