मुरादाबाद में सपा, बसपा पर हमलावर हुईं प्रियंका, पूछा CAA-NRC आंदोलन के वक्त कहां थे अखिलेश?

ज़रूर पढ़े

मुरादाबाद:  कांग्रेस की राष्ट्रीय महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने गुरुवार को प्रदेश सरकार पर जोरदार प्रहार करते हुए कहा कि कि प्रदेश में रोजगार से लेकर उद्योग धंधों तक सब चौपट है ,मंहगाई चरम पर है और भाजपा दावा कर रही है कि उत्तर प्रदेश उत्तम प्रदेश बनने की ओर अग्रसर है।

कांग्रेस की राष्ट्रीय महासचिव ने यहां बुद्धि विहार में एक चुनावी जनसभा को संबोधित करने से पहलेे बहुत दिन बाद ससुराल आने के लिए माफी मांगने के बाद कहा कि उत्तर प्रदेश में “ अंधेर नगरी का चौपट राजा है”। प्रदेश में टीईटी के पेपर लीक हो रहे हैं, युवाओं की सालों की मेहनत बेकार चली गई,युवाओं में बेहद निराशा है। इस दौरान लखनऊ की एक महिला से बात हुई। उसने बताया क‍ि घरों में काम करके बेटी को पढ़ाया, लेकिन सब बेकार चला गया। पेपर माफिया, खनन माफिया, नदी माफिया,चारों ओर माफिया ही माफिया हैं। गनीमत है की लोगों के सांसों पर कोई माफिया नहीं है। प्रियंका गांधी ने उत्तर प्रदेश की जनता से नाराजगी जताते हुए कि आप ऐसे नेताओं को चुनते हैं, जो आपके अधिकार हड़पते हैं, झूठे वादे करते हैं।

उन्होंने किसान आंदोलन का उदाहरण देते हुए कहा कि मजबूत इरादों से सब कुछ बदला जा सकता है उत्तर प्रदेश की तस्वीर बदली जा सकती है। किसानों के दृढ संकल्पों के आगे काले कानून वापस लिए गए। किसान आंदोलन में 700 लोग शहीद होने के बावजूद देश के प्रधानमंत्री ने दो मिनट का मौन तो दूर उनके प्रति संवेदना व्यक्त भी करना मुनासिब नहीं समझा। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने भी एक शब्द नहीं कहा। प्रधानमंत्री का हवाई जहाज 8000 करोड़ का खरीदा गया, जबकि गन्ना भुगतान केवल 4000 करोड़ का है। संसद के सुंदरीकरण पर 20 हजार करोड़ खर्च किए जा रहे हैं जबक‍ि किसानों का कर्जा माफ करने की बात पर वह कहते हैं क‍ि सरकार के पास पैसा नहीं है।सरकार की असंवेदनशीलता का इससे बडा उदाहरण क्या होगा।

प्रियंका ने वादा किया कि उत्तर प्रदेश में सरकार बनने पर क‍िसानों का धान 2500 में और चार सौ रुपये कुंतल में गेहूं खरीदा जाएगा, 400 रुपये कुंतल में गन्ना खरीदा जाएगा। मुरादाबाद को स्मार्ट सिटी बनाने का आश्वासन देते हुए कांग्रेस महासच‍िव ने कहा क‍ि वे महिलाओं को मजबूत करने की बात कर रहे हैं, लेकिन मात्र एक सिलेंडर देने मात्र से महिलाओं का सशक्‍तीकरण हो जाएगा?उन्होंने आगे कहा कि मैं आपको सशक्त बनाऊंगी। आपके लिए लडूंगी। इसलिए 40 फीसद सीट महिलाओं के लिए दी जा रही है। आपकी लड़ाई लड़ने कोई नही आएगा, मैं आपके साथ खड़ी हूं। सरकार किसानों का कर्जा माफ होगा। बिजली का बिल हाफ होगा, महिलाओं को स्कूटी दी जाएगी।अगर सरकार आई 10 लाख तक का इलाज मुफ्त कराएगी, वृद्धावस्था पेंशन हजार रुपये मिलेंगे। आप अपने नेताओं से हिसाब नहीं मांगते।

सीएए एनआरसी आंदोलन के वक्त कहां थे अखिलेश

इस दौरान समाजवादी पार्टी पर भी प्रियंका ने आक्रामक तेवर दिखायी और कहा कि समाजवादी का नया नारा सुना है कि आ रहे हैं अखिलेश, वह एनआरसी, सीएए पर कुछ नही बोले। मुजफ्फरनगर में युवक की हत्या हुई, आदिवासियों का नरसंहार, उन्नाव और हाथरस के अलावा लखीमपुर खीरी में किसानों को कुचला गया क्या अखिलेश आए। अब चुनाव आ गए तो अखिलेश भला क्यों आ रहे हैं? जबकि कांग्रेस पिछले पांच साल से सड़कों पर लड़ाई लड़ती रही। इलाहाबाद में अनुसूचित पर‍िवार की हत्‍या हुई, तब बसपा, सपा क्यों आगे नहीं आईं।


चुनावाी रैली में छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने मुरादाबाद के पीतल दस्तकारों के समस्याओं को उठाया, महंगाई का मुद्दा उठाते हुए कहा कि अगर उत्तर प्रदेश की जनता मौजूदा प्रदेश सरकार को हटाने की मन में ठान ले तो सरकार का सारा नशा उतर जाएगा। महंगाई काबू में आ जाएगी।

श्री बघेल ने उत्तर प्रदेश की दुर्दशा के लिए जिम्मेदार बताते हुए कहा कि यहां एक पार्टी धर्म के नाम पर तो दूसरी जाति के नाम पर वोट मांगती है,जबकि प्रियंका गांधी जनता से जुडे मुद्दों के नाम पर वोट मांग रहीं हैं।वह जनता की लड़ाई लड़ रहीं हैं। उन्होंने आगे कहा कि पिछले दिनों प्रधानमंत्री उत्तर प्रदेश में आए तो योगी के कंधे पर हाथ रखकर चलते हुए उनके फोटो खूब द‍िखाए गए थे, जबकि धर्मानुसार किसी साधु, संन्यासी अथवा योगी के कंधे पर हाथ नहीं रखा जाता।उन्होंने सवाल किया कि प्रधानमंत्री बताएं क‍ि वह मुख्यमंत्री को योगी मानते हैं या नहीं।

ताज़ा खबर

इस तरह की और खबरें

TheReports.In ऐप इंस्टॉल करें

X