देश

पीस पार्टी प्रवक्ता शादाब चौहान बोले ‘मुख्यमंत्री को न लव के मायने मालूम हैं न जिहाद के’

मुरादाबादः पीस पार्टी के राष्ट्रीय प्रवक्ता शादाब चौहान ने यूपी सरकार पर जमकर निशाना साधा है। उन्होंने आरोप लगाया कि यूपी में एक जाति विशेष की सरकार चल रही है। उन्होंने कहा कि यह सरकार हर मोर्चे पर विफल रही है। किसान आंदोलन कर रहे हैं, युवा बेरोजगार हैं, प्रदेश में अपराधियों को बोलबाला है। इन सब मुद्दों से ध्यान भटकाने के लिये यूपी सरकार के मुखिया नफरत का ऐजेंडा चला रहे हैं। शादाब ने कहा कि आज जो किसान आंदोलन चल रहा है उसकी नींव पीस पार्टी ने रखी है। उन्होंने दावा किया कि जब इन क़ानूनों का मसौदा तैयार किया गया था तब पीस पार्टी ने इन क़ानूनों के विरोध में प्रदेश व्यापी प्रदर्शन किया था। उन्होंने बताया कि मुरादाबाद का महनगर अध्यक्ष मोहम्मद अय्यूब को बनाया गया है। साथ ही पीस पार्टी द्वारा पूरे राज्य में जनचेतना अभियान चलाया जा रहा है।

उन्होंने कहा कि यह सरकार जातिवाद पर आधारित है, और गाड़ियों पर लिखे जाति सूचक शब्दों के खिलाफ क़ानून लाई है। यह कितना हास्यपद है। उन्होंने सवाल किया कि क्या भारतीय जनता पार्टी गुर्जर, जाट, ब्राहम्ण, राजभर, कुश्वाहा को मुख्यमंत्री घोषित करेगी, क्या भाजपा ईसाई को मुख्यमंत्री घोषित करेगी। उन्होंने कहा कि भाजपा के अंदर खुद कितना जातिवाद है यह साफ तौर पर दिख रहा है। लेकिन प्रदेश की जनता को लूटने के लिये नए नए हथकंडे अपनाए जा रहे हैं।

शादाब चौहान ने कहा कि 2022 पीस पार्टी अकेले अपने दम पर चुनाव लड़ेगी, जिसकी तैयारियां पीस पार्टी ने अभी से शुरु कर दीं हैं। उन्होंने कहा कि प्रदेश में हमारी सरकार बनने पर पूरे सूबे में पूर्णतः शराबबंदी की जाएगी, प्रदेश की जनता को मुफ्त में मिनरल वाटर दिया जाएगा, युवाओं को रोजगार दिया जाएगा। उन्होंने दावा किया कि यूपी में 2022 में कोई भी सरकार पीस पार्टी के समर्थन के बिना नही बन पाएगी। उन्होंने कहा कि भाजपा सरकार स्मार्ट सिटी बनाने में नाकाम रही है लेकिन पीस पार्टी की सरकार बनने पर गांवों को स्मार्ट बनाया जाएगा।

पीस पार्टी के प्रवक्ता ने कहा कि मुख्यमंत्री लव का मतलब ही जानते और बात करते हैं लव जिहाद की। शादाब ने कहा कि जिहाद का मतलब होता है संघर्ष लेकिन मुख्यमंत्री को इससे कोई सरोकार नहीं है उन्हें तो नफरत का ऐजेंडा चलाना है। शादाब ने कहा कि पीस पार्टी की सरकार बनने पर किसी के साथ भेदभाव नहीं किया जाएगा। सबको समान अधिकार और न्याय दिया जाएगा। उन्होंने कहा कि पीस पार्टी संपूर्ण मानवता को न्याय दिलाने की विचारधारा में विश्वास रखती है। हमारी विचारधारा ऐसा नहीं है जैसी अंबेडकर जी के क़ानून मंत्री रहते और अब रविशंकर प्रसाद के क़ानून मंत्री भेदभाव किया जा रहा है। शादाब ने वादा किया कि हमारी सरकार बनने पर आर्टिकिल 341 में संशोधन किया जाएगा और दलित मुस्लिम एंव ईसाई को उसमें शामिल किया जाएगा।