देश

पीस पार्टी ने किया 2022 के चुनाव का आगाज़, डॉ. अय्यूब समेत चार सीटों पर घोषित किये प्रत्याशी

लखनऊः उत्तर प्रदेश में 2022 में होने वाले विधानसभा चुनाव को लेकर पीस पार्टी ने कमर कस ली है। पीस पार्टी ने शुक्रवार को एक लखनऊ में एक प्रेस कांफ्रेंस में करके चार प्रत्याशियों की घोषणा की है। घोषित किये गए प्रत्याशियों में पीस पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष डॉ. अय्यूब का नाम भी शामिल है। डॉ. अय्यूब एक बार फिर ख़लीलाबाद विधानसभा सीट से चुनाव मैदान में किस्मत में आजमाएंगे। जानकारी के लिये बता दें कि पीस पार्टी अध्यक्ष ने 2012 में इसी विधानसभा सीट से विधानसभा का चुनाव जीता था।

पीस पार्टी ने 2022 के चुनाव के लिये प्रत्याशियों की पहली सूची जारी करते हुए बताया कि पीस पार्टी अध्यक्ष खलीलाबाद से ही चुनाव लड़ेंगे, जबकि सुल्तानपुर से मोहम्मद आरिफ हाशमी, बाराबंकी से मौलाना अख़लाक नदवी, बलरामपुर जिले की उतरौला विधानसभा सीट से मौलाना अरबाब फारूक़ी चुनाव लड़ेंगे। बता दें कि पीस पार्टी ने साल 2012 के चुनाव में चार सीटें जीतीं थीं।

पीस पार्टी पार्लियामेंट्री बोर्ड के अध्यक्ष मौलाना अहमद ज़िया ख़ान ने पत्रकारों को बताया कि पार्टी ने प्रदेश की 250 सीटों को चिन्हित किया जहां पीस पार्टी अपने प्रत्याशी उतारेगी और जी जान से चुनाव लड़ेगी। उन्होंने बताया कि बीते दस महीने से पीस पार्टी संगठन विस्तार एंव संगठन की मज़बूती पर काम कर रही है, इसलिये अभी से पार्टी ने 2022 के चुनाव की तैयारी कर दी है। उन्होंने दावा किया कि साल 2022 में सूबे में बनने वाली सरकार पीस पार्टी के समर्थन के बिना नहीं बन पाएगी।

पार्टी अध्यक्ष लेकिन नंबर चौथा

पीस पार्टी ने डॉक्टर अय्यूब को ख़लीलाबाद से प्रत्याशी बनाया है। दिलचस्प यह है कि डॉ. अय्यूब पीस पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष भी हैं और पहले भी विधायक रह चुके हैं। ऐसे में पार्टी द्वारा उम्मीदवारों की जो सूची जारी की गई है उसमें डॉक्टर अय्यूब का नाम चौथे नंबर पर है। बता दें कि डॉक्टर अय्यूब इसी साल ढ़ाई महीने जेल भी रहकर आए हैं। उन पर आरोप था कि उन्होंने कथित तौर पर संविधान विरोधी विज्ञापन उर्दू अख़बार में प्रकाशित कराया था। इसके बाद डॉक्टर अय्यूब को गिरफ्तार करके जेल भेज दिया गया। उन पर यूपी सरकार द्वारा एनएसए भी लगाया गया था लेकिन बाद में उन पर लगे एनएसए को एडवाईज़री बोर्ड ने हटा दिया।