आचार्य परमहंस ने दी धमकी ‘दो अक्टूबर तक हिंदू राष्ट्र घोषित करो वरना लूंगा जल समाधि’ लोग बोले ‘हम इंतज़ार करेंगे…

0
189

लखनऊ: अयोध्या में राम मंदिर निर्माण के बीच संत समाज की ओर से दो अक्टूबर तक देश को हिंदू राष्ट्र घोषित करने की मांग की गई है। अयोध्या में तपस्वी छावनी के जगदगुरु परमहंस आचार्य महाराज ने मांग की है कि भारत को दो अक्टूबर तक हिंदू राष्ट्र यदि घोषित नहीं किया गया तो वे जल समाधि ले लेंगे। साथ ही आचार्य परमहंस ने केंद्र सरकार से मांग की है कि मुस्लिम और ईसाई समुदाय के लोगों की नागरिकता तत्काल समाप्त करें। उन्होंने कहा कि यदि ऐसा नहीं किया जाता है तो दो अक्टूबर तो वे सरयू नदी में जल समाधि ले लेंगे।

सोशल मीडिया पर प्रतिक्रिया

जगदगुरु परमहंस आचार्य की ओर से सरकार को दी गई जल समाधि की धमकी पर सोशल मीडिया पर लोगों ने मिली जुली प्रतिक्रिया दी है। वरिष्ठ पत्रकार अजीत अंजुम ने ट्वीट करते हुए कहा कि “प्राण जाए पर वचन न जाए बस वाटर लेवल चेक कर लीजिएगा महाराज जी। घाट से 20/25 फिट आगे बढ़ जाइएगा ताकि सटाक से समाधि हो पाए, किनारे में उतारने से आपका संकल्प पूरा न हो पाएगा।

 


उन्होंने कहा कि पता नहीं इनके ठिकाने से सरयू कितनी दूर है, बड़ी चिंता हो रही है। दो अक्टूबर में तो अब 3 दिन ही बचे हैं। अजीत अंजुम एक और ट्विट में कहा कि अब इन्हें दो अक्टूबर तक हिंदू राष्ट्र चाहिए, नफरत के ऐसे पुतले इस दौर में लाइलाज हो रहे हैं। उम्मीद है अपने वादे पर खरे उतरेंगे।

सोशल एक्टिविस्ट हंसराज मीना ने मशहूर दोहा लिखकर टिप्पणी करते हुए लिखा कि काल करे सो आज कर, आज करे सो अब। पल में प्रलय होएगी, बहुरि करेगा कब? वहीं पत्रकार मीना कोटवाल ने बाबा के खिलाफ यूएपीए की मांग करते हुए लिखा कि “मैं इनके खिलाफ UAPA और NSA लगाने की मांग करती हूं, घनघोर संविधान विरोधी बात कर रहे हैं ये। भारत ‘हिंदू राष्ट्र’ बनने से तो रहा, क्या ये अब सच में जल समाधि लेंगे?


परमहंस के इस धमकी पर अलीगढ मुस्लिम यूनिवर्सिटी के पूर्व छात्रसंघ अध्यक्ष फैजुल हसन ने टिप्पणी करते हुए कहा कि “तुम ये ख्वाब लेकर ही मर जाओगे ढोंगी बाबा। ये सनातन धर्म को मानने वाला ढोंगी चोला पहने ढोंग और झूठ के साथ समाज में नफरत फैलाने का काम कर रहा है और सरकार संरक्षण दे रही है इसे। ऐसी बात करके सामने वालों को और कट्टर बनने पर मजबूर करते हैं।”

राजीव कुमार नामी एक यूजर ने कहा कि “कौनसा धर्म नफरत करना सिखाता है? कब भगवान/अल्लाह/ईसा ने कहा है कि मेरे अनुयायी सिर्फ हिन्दू होंगे हमारे राजस्थान में रामदेव जी, गोगाजी लोकदेवता हो या अजमेर दरगाह शरीफ हो या पीर बाबा होहिन्दू मुस्लिम में समान पूजनीय है..जहर उगलना बंद कीजिए।”

Leave a Reply