देश

वैशाली की गुलनाज़ के परिवार से मिलने पहुंचे पप्पू यादव, आर्थिक सहायता देकर की सीबीआई जांच की मांग

नई दिल्ली/पटनाः जनाधिकारी पार्टी के अध्यक्ष पप्पू यादव भले ही बिहार चुनाव में खाता भी नहीं खोल पाए हों, लेकिन इसके बावजूद वे जनता के बीच लगातार जा रहे हैं, जनता की समस्या को उठा रहे हैं। इसी क्रम में आज वे वैशाली के उस पीड़ित परिवार से मिलने पहुंचे जिस परिवार की बेटी को दबंगों ने कैरोसिन डालकर जिंदा जला दिया था। बता दें कि 30 अक्टूबर 2020 को देसरी थाना चनदपूरा ओपी अन्तर्गत रूसूलपूर हबीब गाँव में विजय राय, सतीश राय और चंदन कुमार नाम के तीन युवकों ने गुलनाज खातून पर केरोसिन तेल छिड़ककर आग लगी दी थी। इसके बाद इलाज के दौरान पटना पीएमसीएच में दिनांक 15 नवम्बर को मृत्यू हो गई थी।

आज पप्पू यादव पीड़ित के घर गए और गुलनाज के परिजनों से मुलाकात कर गहरी शोक संवेदना व्यक्त की। पप्पू ने कहा कि हमने स्थानीय ग्रामीणों से बात कर घटना के संबंध में पूरी जानकारी ली। हमने गुलनाज की अम्मी को पार्टी की ओर से फिलहाल आर्थिक मदद की एवं गुलनाज की छोटी बहन को दो सिलाई मशीन की व्यवस्था की गई है। इस मामले में हम CBI जांच की मांग करते हैं।

कल दरभंगा गए थे पप्पू यादव

पूर्व सांसद और जनाधिकार पार्टी के अध्यक्ष पप्पू यादव बीते रोज़ दरभंगा के आधारपुर गांव पहुंचे थे। इस गांव में बीते दिनों कुछ दबंगों ने एक महिला की अस्मत से खिलवाड़ किया गया था। दरअस्ल पीड़ित महिला के पुत्र ने गांव की ही एक लड़की के साथ भागकर शादी कर ली थी। जिस पर लड़की पक्ष ने लड़के की मां के साथ बेरहमी से मार पीट की, और उसे निर्वस्त्र कर घुमाया, इतना ही नहीं इसके बाद पीड़ित महिला की एक महादलित युवक से शादी करा दी थी।

पप्पू ने बताया कि घटना के बारे में सुनकर मन दुखी हो गया। दिल्ली से भाग कर आया और इस पीड़ित परिवार से मुलाकात की। हमने तत्काल आर्थिक मदद के रूप में 25 हजार रुपये की मदद की। उन्होंने कहा कि हम सरकार से मांग करते हैं कि वे तत्काल 20 लाख रुपये और जिन लोगों ने अपराध किया, उनको 6 महीने के अंदर सजा मिले। पीड़ित परिवार को अभी भी धमकी मिल रही है। दुनिया भर में बिहार में महिला सबसे ज्यादा असुरक्षित हो गया है। घटना को मानवाधिकार के पास भी ले जाएंगे।

Facebook Comments