यूपी में जड़ें जमाने का सपना देखना छोड़ें औवैसी: इंद्रेश कुमार

ज़रूर पढ़े

इटावा: राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के वरिष्ठ प्रचारक डॉ. इंद्रेश कुमार ने कहा कि ऑल इंडिया मजलिस ए इत्तेहाद उल मुस्लिमीन (एआईएमआईएम) प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी हैदराबाद के बाहर वजूदहीन है और उत्तर प्रदेश में जड़े जमाने का उनका ख्वाब कभी पूरा नहीं होगा।

अमृत महोत्सव के तहत इटावा क्लब सूफी संत मलंग समाज के सम्मेलन को संबोधित करते हुए डॉ. कुमार ने कहा कि असदुद्दीन ओवैसी हैदराबाद के बाहर वजूदहीन है लेकिन यूपी में ताकतवर बनने की कोशिश कर रहे हैं। वह पहले हैदराबाद में तो सरकार बना लें, यूपी वालो को दुखी क्यों करते हैं। देश मे सब जगह चुनाव मैदान मे उतरने पर ओवैसी की जमानत जब्त होती है।

समाजवादी पार्टी (सपा) अध्यक्ष अखिलेश यादव का नाम लिये बगैर उन्होंने कहा कि कुछ लोग देश के बंटवारे के जिम्मेदार मोहम्मद अली जिन्ना का महिमा मंडन कर मुसलमानो के वोट की ओर देख रहे हैं। जिसने मुल्क बांटा, उसके नाम पर क्या देश के मुसलमान उसके सहयोगी बनेंगे। पाकिस्तान ने आज तक एक करोड़ 40 लाख मुसलमानों को नागरिकता नही दी है तो ऐसे में उस देश के संस्थापक का नाम लेने वाले का साथ मुसलमान कतई नहीं देंगे। लोगों को जाली वाली नकली टोपी और लाल टोपी वालों से सावधान रहने की जरूरत है।

उन्होंने कहा कि पाकिस्तान,बांग्लादेश, अफगानिस्तान में जुल्म हो हुए तो सब ने उसकी निंदा की है। बालघाट, लखीमपुर या कश्मीर में हिंसा हुई तो उसकी भी सभी लोगों ने निंदा की और जिन्होंने उस हिंसा पर चुप्पी सादी वह अपराधी हैं।

डा कुमार ने कहा कि पाक अधिकृत कश्मीर (पीओके) पर भारत अपना दावा करता रहा है। पड़ोसी देश को समझना होगा कि यह दावा यह खुली चुनौती भारत के हर एक दल की है। पार्लियामेंट में सब ने मिलकर इस बात को कहा तो इसलिए सोचने की जरूरत नहीं है।

उन्होने कहा कि मुस्लिम राष्ट्रीय मंच के इस कार्यक्रमें लोगों ने संकल्प लिया कि धर्मों के नाम पर दंगे नहीं होंगे । जातियों के नाम पर छुआछूत मिटायेंगे। भाईचारा सम्मान भागीदारी लाएंगे। औरतों पर जुल्म नहीं करेंगे और उनकी रक्षा और हक के लिए काम करेंगे।

डा कुमार ने कहा कि प्रदूषण नहीं पर्यावरण वाला हिंदुस्तान बनाएंगे इसलिए पानी बर्बाद नहीं करना, पेड़ लगाना और इसके साथ-साथ प्लास्टिक से भी बचना चाहिए और जो भी दुखी है पीड़ित हैं आशाएं हैं उनकी मदद के लिए हाथ आगे बढ़ाएंगे जिससे कोई भी भूखे पेट ना सोए ना कोई नंगे बदन रहे और ना कोई शोषित अपमानित रहे ऐसा हिंदुस्तान होना चाहिए।

सूफी संत मलंग समाज मुस्लिम राष्ट्रीय मंच की ओर से इटावा क्लब में अमृत महोत्सव के अंतर्गत आजादी के 75 वीं सालगिरह के उपलक्ष में हुब्बुल वतनी पैग़ाम-ए-अमन कौमी एकता कार्यक्रम आयोजित किया गया जिसमें हिंदू, मुस्लिम,सिख,ईसाई,बौद्ध सभी धर्मों के धर्मगुरु मंच पर मौजूद रहे।

ताज़ा खबर

इस तरह की और खबरें

TheReports.In ऐप इंस्टॉल करें

X