झारखंड प्रदर्शन में जान गंवाने वाले मुदस्सिर और सुहैल के परिजनों से मिले ओवैसी

0
148

नई दिल्लीः भाजपा की पूर्व नेता नुपूर शर्मा और भाजपा के दिल्ली प्रदेश के पूर्व मीडिया प्रभारी नवीन कुमार जिंदल द्वारा नबी ﷺ का अपमान किया गया था। इसके ख़िलाफ देश भर में मुसलमानों ने प्रदर्शन किये। 10 जून 2022 को यह प्रदर्शन हिंसक हो गये, जिसमें झारखंड में दो युवकों की जान चली गई थी। इसी प्रदर्शन में रांची में मुदस्सिर की जान गई थी। अब ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन के सांसद असदुद्दीन ओवैसी ने झारखंड में प्रदर्शन में जान गंवाने वाले युवकों के परिजनों से मुलाक़ात की है।

असद ओवैसी ने ट्वीट कर जानकारी दी है कि पिछले दिनों, झारखण्ड के 16 वर्षीय मुदस्सिर और 22 वर्षीय साहिल की रांची पुलिस ने बंदूक़ की गोली से जान ले ली थी। आज मैंने मरहूमीन के वालिदैन से मुलाक़ात कर ताज़ियत पेश की। दोनो के क़त्ल को लेकर पुलिस ने अभी तक न एफआईआर दर्ज किया है और ना ही कोई एक्शन लिया है।

ओवैसी ने प्रधानमंत्री मोदी पर निशाना साधते हुए कहा कि “जी, अपने दोस्त अब्बास को बुलाकर उलेमा-ए-किराम की तक़रीर सुनाइये और फिर उनसे पूछिए कि जो नूपुर शर्मा ने हजरत मोहम्मद ﷺ के बारें में कहा, वो सही है या ग़लत?”

दरअस्ल बीते रोज़ पीएम मोदी ने अपनी माँ को लिखे पत्र में अपने बचपन के दोस्त ‘अब्बास’ के बारे में बताया- ‘अब्बास, अपने पिता की मृत्यु के बाद मोदी जी के घर रहकर पला-बढ़ा, ईद के दिन उनके घर में अब्बास के लिये खूब पकवान बनते’

अग्निपथ पर भी निशाना

ओवैसी ने केंद्र सरकार की अग्निपथ योजना पर भी सवालिया निशान लगाया है। ओवैसी ने कहा कि मोदी सरकार देश की सुरक्षा के साथ खिलवाड़ कर रही है। 4 साल के लिए क्या सिखेगा कोई? आप झूठ बोल रहे हैं। प्रधानमंत्री से कहूंगा खिलवाड़ मत करिए। आप ने नोटबंदी की, 50 लाख लोगों की नौकरी चली गई।