जैन इरिगेशन के अंतरराष्ट्रीय कारोबार का सिंगापुर की कंपनी में विलय

जलगाँव: सिंचाई प्रौद्योगिकी कंपनी जैन इरिगेशन सिस्टम्स लि.ने सिंचायी यंत्रों के अपने अंतरराष्ट्रीय कारोबार को सिंगापुर की निवेश कंपनी टेमासेक के स्वामित्व वाली रिवुलिस पीटीई लिमिटेड ‘रिवुलिस’ को बेचने के करार की मंगलवार को घोषणा की।

जैन इरिगेशन ने एक बयान में कहा कि उसकी पूर्ण स्वामित्व वाली अनुषंगी जैन इंटरनेशनल ट्रेडिंग बीवी और रिवुलिस ने निश्चित लेनदेन समझौते किए हैं। इसके तहत जैन इरिगेशन के इंटरनेशनल ईरिगेशन बिजनस (आईआईबी) का अब रिवुलिस के साथ विलय किया जाएगा और इससे एक वैश्विक कंपनी का निर्माण होगा। नयी कंपनी सिंचाई और जलवायु क्षेत्र में 75 करोड़ डॉलर वार्षिक के राजस्व के साथ दुनिया में अपने क्षेत्र की दूसरी सबसे बड़ी कंपनी होगी।

यह सौदा नकद और स्टॉक लेनदेन हासिल किया जा रहा है। कंपनी का कहना है कि नकद आय का उपयोग जैन इरिगेशन के समेकित ऋण को 45 प्रतिशत तक घटाने के लिए उपयोग किया जाएगा। इसमें 22.5 करोड़ डालर के पुनर्गठित और आईआईबी सहित समूह की कंपनियों के पूरे ऋण शामिल हैं। इस करार के तहत विलय के बाद बनी नयी कंपनी में जैन इरिगेशन समूह की 22 प्रतिशत और शेष 78 प्रतिशत टेमासेक के पास रहेगी ।

जैन इरिगेशन के प्रबंध निदेशक अनिल जैन ने कहा, “ हम इस गठबंधन में प्रवेश करके बहुत खुश हैं। टेमासेक एक विश्व स्तर पर मान्यता प्राप्त निवेश कंपनी है। हम आशा करते हैं कि रिवुलिस के साथ विलय से इस क्षेत्र में एक विश्व अग्रणी कंपनी तैयार होगी। ”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *