रवीश का सवाल: तो अब हत्या के बाद मुआवज़े के धन्यवाद के पोस्टर लगेंगे?

इस पोस्टर से शर्मनाक क्या हो सकता है? मनीष गुप्ता की हत्या के बाद मुआवज़े का आभार जताने के लिए जिन लोगों ने यह पोस्टर लगाए हैं उन्हें सोचना चाहिए कि वे समाज और इंसानियत का क्या हाल कर रहे हैं? क्या सत्ता और समृद्धि से संपन्न वैश्य समाज की ये हालत हो गई कि चालीस लाख के मुआवज़े के लिए विधायक और मुख्यमंत्री का आभार प्रकट कर रहे हैं? इससे ज़्यादा तो वैश्य समाज बीजेपी को चंदा देता होगा। वैश्य समाज ने बीजेपी को शुरू से आर्थिक मदद की है। उसकी गिनती कुछ सौ करोड़ में भी नहीं हो सकती। उस समाज के लोग समाज के नाम पर चालीस लाख के मुआवजे के लिए मुख्यमंत्री को आभार दे रहे हैं और पोस्टर लगा रहे हैं ? यह पोस्टर बता रहा है कि अरबों रुपये देकर जिस वैश्य समाज ने आर एस एस और बीजेपी को यहाँ तक लाए उनकी इस पार्टी ने क्या हालत कर दी है।

यह तस्वीर अमर उजाला के फ़ोटोग्राफ़र ओमप्रकाश वाधवानी जी ने ली है। अमर उजाला की साइट पर प्रकाशित है।

कानपुर के व्यापारी मनीष गुप्ता की हत्या के सिलसिले में कोई गिरफ़्तारी नहीं हुई। क्या वैश्य समाज के इन नेताओं
को इस सवाल के साथ पोस्टर नहीं लगाना था ? क्या बीजेपी को यह पोस्टर उतरवा नहीं देना चाहिए? क्या लोग इतने नासमझ है? वे नहीं समझेंगे कि बीजेपी की राजनीतिक मदद के लिए यह पोस्टर लगा है? बीजेपी विपक्ष पर ऐसे मौक़े पर राजनीति का आरोप लगाती है? लेकिन यह पोस्टर क्या कह रहा है? क्या बीजेपी मुआवज़े के लिए आभार वाले इस पोस्टर का समर्थन करेगी?

वैश्य समाज के ये सारे नेता बताएँ कि क्या मामले में इंसाफ़ हो गया है? गिरफ़्तारी हो गई है ? क्या समाज के नाम पर बने संगठनों का यही काम रह गया है? कौन लोग हैं जो अपना चेहरा लगाकर मनीष गुप्ता की हत्या पर मुआवज़ा देने की घोषणा पर मुख्यमंत्री का आभार प्रकट कर रहे हैं ? हम कहाँ आ गए हैं ? क्या हमने वाक़ई सोचना समझना बंद कर दिया है ? अपनी सोच समाज और धर्म के नाम पर बने इन संगठनों के यहाँ गिरवी रख दी है?

8 thoughts on “रवीश का सवाल: तो अब हत्या के बाद मुआवज़े के धन्यवाद के पोस्टर लगेंगे?

  • November 17, 2022 at 11:42 am
    Permalink

    Pak J Biol Sci 2007 Aug 1; 10 15 2583 6 Takada et al Nonsteroidal anti inflammatory agents differ in their ability to suppress NF kappaB activation, inhibition of expression of cyclooxygenase 2 and cyclin D1, and abrogation of tumor cell proliferation lasix generic FN, GD, and RM provided data assembly

  • November 18, 2022 at 11:51 pm
    Permalink

    com 20 E2 AD 90 20Manforce 20Viagra 2050 20Mg 20 20Viagra 20Beograd 20Prodaja 20Apoteka manforce viagra 50 mg Rambold is required to re enter sex offender treatment and is barred from any contact with individuals under the age of 18 unless they are accompanied by an adult aware of his conviction and approved by his probation officer, Evans said stromectol buy canada

  • December 10, 2022 at 5:39 pm
    Permalink

    Tamoxifen was approved by the Food and Drug Administration FDA in 1977 for the treatment of women with advanced breast cancer, in 1986 for adjuvant treatment of primary breast cancer, and later in 1990 for adjuvant therapy in premenopausal and postmenopausal women with node negative disease reviewed in 113, 114 black viagra pills review

  • December 11, 2022 at 3:35 am
    Permalink

    I think I have had some of the side effects but in general I have been doing fine zithromax drug class Methionine restriction targets the methionine addiction of cancer

  • December 11, 2022 at 10:37 am
    Permalink

    Heterogeneous populations of cancer cells are treated with varying doses of clinically relevant small molecule inhibitors accutane treatment

Comments are closed.