देश

लता मंगेशकर बोलीं ‘सायरा भाभी ने सब छोड़कर यूसुफ़ भाई की दिन रात सेवा की ऐसी औरत को मैं प्रणाम करती हूँ’

नई दिल्लीः हिन्दी सिने जगत के दिग्गज कलाकार दिलीप कुमार का निधन हो गया है। बुधवार सुबह दिलीप कुमार ने 98 वर्ष की आयु में अंतिम साँस ली। लंबे समय से दिलीप कुमार बीमार चल रहे थे। इस साल चिकित्सकीय समस्याओं के कारण उन्हें कई बार अस्पताल में भर्ती करवाना पड़ा था। बुधवार सुबह, क़रीब साढ़े सात बजे दिलीप कुमार ने मुंबई स्थित हिंदुजा अस्पताल में अंतिम साँस ली।

उनकी मौत पर बॉलीवुड समेत पूरे देश में शोक की लहर है। देश के तमाम नामी लोग उन्हें याद कर रहे हैं। उनके निधन पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शोक प्रकट किया है। पीएम मोदी ने कहा, “दिलीप कुमार जी को एक सिनेमाई लीजेंड के रूप में याद किया जाएगा। उन्‍हें असामान्‍य प्रतिभा मिली थी, जिसकी वजह से उन्‍होंने कई पीढ़ियों के दर्शकों को रोमांचित किया। उनका जाना हमारी सांस्कृतिक दुनिया के लिए एक क्षति है। उनके परिवार, दोस्तों और असंख्य प्रशंसकों के प्रति संवेदना।” पीएम मोदी ने कुमार की पत्‍नी सायरा बानो से फोन पर बात की और उन्‍हें ढांढस बंधाया।

लता मंगेशकर का छलका दर्द

दिलीप कुमार के निधन पर मशहूर गायिका लता मंगेशकर भी अपना दर्द बयां करने से नहीं रोक पाईं। उन्होंने सोशल मीडिया पर टिप्पणी करते हुए लिखा कि यूसुफ़ भाई आज अपनी छोटीसी बहन को छोड़के चले गए।। यूसुफ़ भाई क्या गए, एक युग का अंत हो गया। मुझे कुछ सूझ नहीं रहा। मैं बहुत दुखी हूँ, नि:शब्द हूँ। कई बातें कई यादें हमें देके चले गए। यूसुफ़ भाई पिछले कई सालों से बिमार थे, किसी को पहचान नहीं पाते थे ऐसे वक़्त सायरा  भाभी ने सब छोड़कर उनकी दिन रात सेवा की है उनके लिए दूसरा कुछ जीवन नहीं था। ऐसी औरत को मैं प्रणाम करती हूँ और यूसुफ़ भाई की आत्मा को शान्ति मिले ये दुआ करती हूँ।