देश

केरलः पूर्व मंत्री इब्राहिम कुन्जू की गिरफ्तारी पर गरमाई सियासत, IUML बोली सोची समझी साजिश के तहत

मल्लापुरम: इंडियन यूनियन मुस्लिम लीग (आईयूएमएल) ने पलारीवट्टोम फ्लाईओवर मामले में सतर्कता दल के अधिकारियों की ओर से बुधवार को केरल के पूर्व मंत्री एवं आईयूएमएल के नेता वी के इब्राहिम कुन्जू की गिरफ्तारी को शर्मनाक हरकत करार देते हुये इसकी निंदा की है। उल्लेखनीय है कि सतर्कता दल ने बुधवार को एर्नाकुलम के लाकेशोर अस्पताल में कुन्जू को गिरफ्तार किया, जहां उनका इलाज चल रहा था। सूत्रों के मुताबिक संभावित गिरफ्तारी का पता चलने पर कुन्जू मंगलवार शाम को अस्पताल में भर्ती हो गये थे।

आईयूएमएल के राष्ट्रीय महासचिव पी के कुन्हलिकुट्टी ने यहां मीडिया से कहा,“ कुन्जू की गिरफ्तारी का मकसद सरकारी अधिकारियों और सत्तारूढ़ लेफ्ट डेमोक्राटिक फ्रंट (एलडीएफ) नेताओं द्वारा कथित रूप से किये गये कई गंभीर अपराधों से लोगों का ध्यान हटाना है। स्थानीय निकाय चुनाव के समय कुन्जू की गिरफ्तारी साफ दर्शाती है कि यह सोची-समझी साजिश है। सत्तारूढ़ पार्टी ने इस गिरफ्तारी की रणनीति बनाने के लिए तिरुवनंतपुरम में एक बैठक की और उसे कुन्जू के खिलाफ इस कार्रवाई के बारे में पहले ही पता था। एलडीएफ संयोजक पहले ही संभावित गिरफ्तारी के बारे में संकेत दे दिया था। एलडीएफ ने एक सूची तैयार की है और अधिकारी एलडीएफ सरकार की राजनीतिक योजना को अंजाम दे रहे हैं। एलडीएफ सरकार राजनीति से प्रेरित गिरफ्तारी और उत्पीड़न के लिये केंद्रीय जांच एजेंसियों का इस्तेमाल कर रही है।”

लोकसभा सांसद कुन्हलिकुट्टी ने कुन्जू को पार्टी की ओर से पूरा समर्थन देते हुये कहा,“ एलडीएफ सरकार यूनाइटेड डेमोक्राटिक फ्रंट (यूडीएफ) के नेताओं के खिलाफ राजनीति से प्रेरित कार्रवाई करने का प्रयास कर रही है। आईयूएमएल और यूडीएफ अपने नेताओं के खिलाफ सभी राजनीतिक और कानूनी आरोपों का सामना करेगी। यह गिरफ्तारी अनुचित है, क्योंकि मामला अपने अंतिम चरण में जा रहा है। यह हैरानी वाला मामला है कि आरोपी को ऐसे समय में गिरफ्तार किया गया है जब जांचकर्ता अदालत में अपना आरोप पत्र जमा करने वाले हैं। अगर यह जरूरी था तो गिरफ्तारी पहले होनी चाहिये, न कि अब। कुन्जू ने पलारीवट्टोम फ्लाईओवर मामले में कोई अपराध नहीं किया।”