जामिया को मिला डिज़ास्टर रिस्क रिडक्शन एक्सिलेन्स अवार्ड

0
322

नई दिल्लीः जामिया मिल्लिया इस्लामिया को आपदा प्रबंधन के विभिन्न क्षेत्रों में विशिष्ट योगदान के लिए डिज़ास्टर रिस्क रिडक्शन एक्सिलेन्स अवार्ड (डब्ल्यूसीडीएम- डीआरआर अवार्ड) से सम्मानित किया गया है। 22 जून, 2022 को इंडिया इंटरनेशनल सेंटर (IIC) में आयोजित  डब्ल्यूसीडीएम- डीआरआर अवार्ड्स समारोह 2022 में प्रतिष्ठित शोध संगठन, वर्ल्ड कांग्रेस ऑन डिजास्टर मैनेजमेंट ( डब्ल्यूसीडीएम  ) द्वारा यह अवार्ड दिया गया।

जामिया की कुलपति प्रो नजमा अख्तर और कुलसचिव प्रो नाज़िम हुसैन जाफ़री ने कार्यक्रम के मुख्य अतिथि श्री जी कृष्णा रेड्डी, माननीय केंद्रीय पर्यटन, संस्कृति और पूर्वोत्तर क्षेत्र, भारत सरकार के विकास मंत्री से अवार्ड प्राप्त किया।

जामिया को अनुसंधान, शिक्षण और प्रशिक्षण विशिष्टता के लिए यह अवार्ड मिला, जो विश्वविद्यालय द्वारा वैश्विक प्राकृतिक आपदा के बेहतर प्रबंधन और शमन के लिए प्रदान किया जा रहा है जो अक्सर दुनिया भर में देखा जा रहा है।

समारोह में इंजीनियरिंग एवं प्रौद्योगिकी फैकल्टी के डीन प्रो. इब्राहीम, चीफ प्रॉक्टर प्रो. अतीकुर रहमान, और पर्यावरण विज्ञान विभाग जामिया के प्रभारी प्रो. सिराजुद्दीन अहमद ने भी भाग लिया। कार्यक्रम में राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय गणमान्य व्यक्तियों, वैज्ञानिकों, शोधकर्ताओं, नीति निर्माताओं, चिकित्सकों और रिस्पोंडर्स की एक बड़ी तादात मौजूद थी।

डब्ल्यूसीडीएम आपदा जोखिम प्रबंधन के विभिन्न चुनौतीपूर्ण मुद्दों पर चर्चा करने के लिए दुनिया भर के शोधकर्ताओं, नीति निर्माताओं और चिकित्सकों को एक ही मंच पर लाने के लिए DMICS की एक अनूठी पहल है। यह मानवजनित और प्राकृतिक आपदा प्रबंधन से संबंधित सबसे बड़ा संगठन है।

Leave a Reply