हरिद्वार ‘अधर्म’ संसद: भड़काऊ भाषण मामले में आरोपी जितेंद्र नारायण त्यागी नारसन बॉर्डर से गिरफ्तार

0
177

जितेंद्र नारायण त्यागी उर्फ वसीम रिज़वी को पुलिस ने ‘अधर्म’ संसद में हेट स्पीच मामले में गिरफ्तार किया है। यह गिरफ्तारी गुरुवार को हुई है। हरिद्वार में धर्म संसद आयोजित कर मुसलमानों के खिलाफ हेट स्पीच के मामले में जितेंद्र त्यागी उर्फ वसीम रिज़वी की गिरफ्तारी हुई है। कुछ दिन पहले स्थानीय निवासी की तहरीर पर हेट स्पीच मामले में हरिद्वार कोतवाली पुलिस ने 153A के तहत मुकदमा दर्ज किया गया था।

जितेंद्र नारायण त्यागी उर्फ वसीम रिजवी, साध्वी अन्नपूर्णा सहित कई अन्य तथाकथित संतों के नाम से हरिद्वार कोतवाली में मुकदमा दर्ज है। हरिद्वार पुलिस ने जितेंद्र नारायण को नारसन बॉर्डर से गिरफ्तार किया है। पुलिस कुछ ही देर में हरिद्वार कोतवाली लेकर जितेंद्र सिंह त्यागी को पहुंचेगी। बताया जा रहा है कि उसके साथ विवादित स्वामी यति नरसिंहानंद भी मौजूद है। सूचना के अनुसार, पुलिस द्वारा अभी सिर्फ जितेंद्र सिंह त्यागी को ही मामले में गिरफ्तार किया गया है।

डीआईजी गढ़वाल मंडल करन सिंह नगन्याल ने बताया कि वसीम रिजवी उर्फ जितेंद्र नारायण त्यागी को नारसन बॉर्डर से गिरफ्तार कर लिया गया है। आरोपी को कोतवाली ले जाकर पूछताछ की जाएगी उसके बाद कोर्ट में पेश किया जाएगा।

जानकारी के लिये बता दें कि हरिद्वार में आयोजित एक धर्म संसद उस वक्त ‘अधर्म’ संसद में परिवर्तित हो गई थी, जब उसके मंच से मुसलमानों के खिलाफ ज़हर उगला गया था, इसी अधर्म संसद के मंच से बीस लाख मुसलमानों को मारने के लिये लिट्टे के प्रभाकरण और म्यांमार का उदाहरण दिया गया था। इस घटना के बाद इससे जुड़े कई वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हुए जिसमें विवादित बाबा यति नरसिंहानंद समेत कई विवादित बयानवीर मुसलमानों और ईसाईयों के खिलाफ भड़काऊ बयानबाजी करते नज़र आए थे।