गुरुग्राम नमाज़ विवाद: दक्षिणपंथियों की करतूत को अमीरात की राजकुमारी ने बताया ‘धार्मिक’ आतंकवाद

ज़रूर पढ़े

नई दिल्लीः संयुक्त अरब अमीरात की राजकुमारी शेख हेंड फैसल अस कस्सेमी पिछले एक सप्ताह से लगातार सुर्खियों में हैं। उन्होंने पिछले दिनों विवादित एंकर सुधीर चौधरी को आतंकवादी करार देते हुए निशाने पर लिया था, अब उन्होंने गुरुग्राम में हर शक्रवार को जुमा की नमाज़ को लेकर होने वाले विवाद पर गुस्सा जाहिर किया है। उन्होंने नमाज़ में बाधा डालने की घटना को इस्लामोफोबिक बताते हुए धार्मिक आतंकवाद करार दिया है।

नमाज़ में बाधा डालने की ख़बर को ट्वीट करते हुए अमीराती राजकुमारी ने कहा कि “सेक्टर 37 में हिंदुत्वादियों ने फिर से की नमाज़ को बाधित किया, पुलिस ने प्रदर्शनकारियों को हिरासत में लिया, मुसलमानों को भारी सुरक्षा के बीच मैदान के कुछ हिस्सों में नमाज़ अदा करने की अनुमति दी गई। नमाज के लिए 100 खुले स्थान थे, अब केवल 20 हैं, #धार्मिक आतंकवाद #इस्लामोफोबिया।”

हिंदू आतंकवाद मौजूद

इससे पहले अमीराती राजकुमारी ने एक ट्वीट कर कहा था कि हिंदू आतंकवाद मौजूद है। उन्होंने अपने ट्वीट में कहा था कि हमें आभारी होना चाहिए कि सहनशीलता का दावा करने वाले पाखंडी ने अपनी करतूतों से अपने सभी भाइयों के लिए नरक के द्वार खोल दिए हैं। अब दो अरब लोगों की अरब और मुस्लिम दुनिया को पता चल जाएगा कि हिंदू आतंकवादी मौजूद हैं और दुनिया भर में उनके पास ऐसे सेल हैं जो नफरत फैलाते हैं।

जानकारी के लिये बता दें कि दुबई स्थित इंडियन चार्टेड अकाउंटेंट ने विवादित एंकर सुधीर चौधरी को दुबई में एक कार्यक्रम के लिये आमंत्रित किया था। सुधीर चौधरी को दुबई बुलाने का शेख हेंड फैसल अस कस्सेमी ने विरोध किया, जिसके बाद Institute of Chartered Accountants of India Dubai Chapter  ने सुधीर चौधरी का नाम वक्ताओं की लिस्ट से हटा लिया था। अमीराती राजकुमारी ने जी न्यूज़ के इस एंकर को आतंकवादी बताते हुए नफरत फैलाने वाला बताया था।

ताज़ा खबर

इस तरह की और खबरें

TheReports.In ऐप इंस्टॉल करें

X