AMU के डॉ. हिफ्जुर सिद्दीकी के हाथ लगी बड़ी कामयाबी, जानें क्या है कारनामा

0
361

अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय (एएमयू) के प्राणीशास्त्र विभाग के फेकेल्टीमेंबर  डॉ हिफ्जुर सिद्दीकी का एक अध्ययन यूनेस्को- ईओएलएसएस में प्रकाशित हुआ है. यह अध्ययन‘ल्यूपोल ट्राइटर्पीन और औषधीय गुणों के लाभकारी स्वास्थ्य प्रभाव‘ पर आधारित है.

बता दें कि विश्वकोश लाइफ सपोर्ट सिस्टम्स (ईओएलएसएस), बीस विश्वकोशों का एक संग्रह है, जो स्वास्थ्य, रखर-खाव और भविष्य के लिए समर्पित सबसे बड़े भंडारों में से एक है. सिद्दीकी पिछले एक दशक से जैतून, टमाटर, आम, एलोवेरा, फूलगोभी, और दूसरे औषधीय पौधों और सब्जियों में पाए जाने वाले अणु-ल्यूपोल की कैंसर-रोधी और सूजन-रोधी बीमारियों पर काम कर रहे हैं.

इस बारे में डॉ सिद्दीकी ने कहा, ‘‘ आशा है कि मेरा काम, जो यूनेस्को – ईओएलएसएस में प्रकाशित हुआ है, सैकड़ों विषय विशेषज्ञों के कैंसर अनुसंधान पर संपादित अत्याधुनिक अभिलेखीय ज्ञान का एक हिस्सा होगा. ‘‘

सिद्दीकी शोध के क्षेत्र में ल्यूपोल की रिपोर्टिंग, चुनिंदा एण्ड्रोजन आश्रित और स्वतंत्र प्रोस्टेट कैंसर को लक्षित करना शामिल है. उन्हें अमेरिकन एसोसिएशन ऑफ कैंसर रिसर्च (एएसीआर) द्वारा ऑरलैंडो में अपनी 102 वीं वार्षिक बैठक में शोध्य प्रस्तुत करने के लिए भी आमंत्रित किया गया है.

पर्यटन मंत्रालय द्वारा आयोजित स्टडी टूर में जामिया के छात्रों का चयन

पर्यटन एवं आतिथ्य प्रबंधन विभाग के दो छात्र, अर्थात् मो. वासिल असरार (पर्यटन एवं  आतिथ्य में पीएचडी) और देवेश ठाकुर (बैचलर ऑफ टूरिज्म एंड ट्रैवल मैनेजमेंट) को कोहिमा, नागालैंड के स्टडी टूर में भाग लेने के लिए पूरे भारत के 50 छात्रों में से चुना गया है। यह चयन सह-पाठयक्रम गतिविधियों एवं कार्यक्रमों में की गई भागीदारी के आधार पर पर्यटन मंत्रालय और इंडियन यूनिवर्सिटीज एसोसिएशन द्वारा निर्धारित मानदंडों पर आधारित था। यह आयोजन 27 – 29 नवंबर 2021 को अंतर्राष्ट्रीय पर्यटन मार्ट और नागालैंड के हॉर्नबिल महोत्सव 2021 के द्वारा आयोजित किया जाएगा।

इस कार्यक्रम की मेजबानी पर्यटन मंत्रालय, भारत सरकार और नागालैंड सरकार द्वारा की जा रही है। इस कार्यक्रम में 8 राज्य सरकारों के प्रतिनिधियों के साथ जानी-मानी हस्तियां और एडीजी, पर्यटन शामिल होंगे। इस आयोजन में सांस्कृतिक कार्यक्रम और मुख्यमंत्री आवास पर नागालैंड सरकार द्वारा रात्रिभोज, किसामा हेरिटेज विलेज और किसामा युद्ध संग्रहालय और मोरंग्स जैसे विभिन्न कार्यक्रम शामिल होंगे। इसके अलावा, पर्यटन पर एक बी2बी बैठक और पैनल चर्चा भी होगी।

पर्यटन एवं आतिथ्य प्रबंधन विभाग की अध्यक्ष सारा हुसैन कहती हैं, ”विभाग के छात्र पर्यटन उद्योग में सकारात्मक योगदान देने के लिए काफी उत्सुक हैं। शिक्षण और अधिगम का हमारा आदर्श वाक्य ‘करके सीखना’ है। यह बहुत गर्व की बात है कि हमारे छात्र इस स्टडी टूर से लाभ पाने वाले देश भर के 50 छात्रों में शामिल हैं।”

 

Leave a Reply