देश

संसद में दानिश अली की मांग, ‘UAPA के लगाकर जेल में बंद CAA विरोधी आंदोलनकारियों को तुरंत रिहा करे सरकार’

नई दिल्लीः दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल पर समाजिक कार्यकर्ताओं ने आरोप लगाया है कि वह सीएए के खिलाफ शांतिपूर्ण तरीक़े से आंदोलन करने वाले छात्रों और समाजिक कार्यकर्ताओं को यूएपीए लगाकर उनका उत्पीड़न कर रही है। अब यह मुद्दा देश की संसद में पहुंच गया है। उत्तर प्रदेश की अमरोहा लोकसभा सीट से सांसद और जामिया के पूर्व छात्र कुंवर दानिश अली ने लोकसभा में दिल्ली पुलिस की कार्रावाई पर सवाल उठाए हैं। उन्होंने कहा कि जेएनयू, जामिया के छात्रों एवं CAA के खिलाफ शांतिपूर्ण आन्दोलन करनेवालों के खिलाफ यू.ए.पी.ए. लानागा दृभार्यपूर्ण है।

दानिश अली ने अपने संबोधन में कहा कि संसद का काम कानून बनाने का है। आम जनता अगर उस कानून से संतुष्ट न हो तो आन्दोलन करना उसका हक़ है। दानिश अली ने कहा कि सभी जानते हैं कि संसद का काम कानून बनाने का है। आम जनता अगर उस कानून से संतुष्ट न हो तो आन्दोलन करना उसका हक़ है। उन्होंने कृषि सुधार बिल के विरोध में होने वाले प्रदर्शन का हवाला देते हुए कहा कि  कल बिल पास हुआ और आज किसान सड़कों पर हैं, वे आन्दोलन कर रहे हैं।

बसपा सांसद ने कहा कि जिस तरह कृषि सुधार बिल का विरोध हो रहा है, ऐसे ही इस संसद ने सीएए कानून बनाया, उसके खिलाफ देश भर में आन्दोलन हुए। जामिया और जेएनयू विश्वविद्यालयों के काफी छात्रों ने आन्दोलन किए। लेकिन बदकिस्मती इस बात की है कि दिल्ली में और देश में शांतिपूर्ण आन्दोलन करने वालों के खिलाफ यू.ए.पी.ए. यानी आतंकवादी गतिविधियों में लिप्त रहने वालों के लिए बनाए गए इस कानून का दुरुपयोग करते हुए लोगों को जेल भेजा गया है।

दानिश अली ने कहा कि जामिया विश्वविद्यालय के एल्युम्नाई एसोसिएशन के प्रेज़िडेंट शैफुर्रहमान हों या दूसरे छात्र हों या प्रो. अपूर्वानन्द जैसे लोगों को दिल्ली पुलिस का स्पेशल सेल बुलाकर ग्रिल करता है। यह बहुत ही दुर्भाग्यपूर्ण है। उन्होंने कहा कि मैं सरकार से माँग करता हूं कि जो बेगुनाह लोग जेलों में बंद हैं, उनको जल्दी-से जल्दी छुड़वाया जाए। दानिश अली ने कहा कि चार्जशीट का जो समय होता है, उसको जानबूझकर दिल्ली पुलिस नहीं फाइल कर रही है, जिससे ज्यादा से ज्यादा वक्त बिना ट्रायल के उन निर्दोष लोगों को जेलों में रखा जा सके क्योंकि उनके खिलाफ कोई सबूत नहीं है।

Facebook Comments