देश

चंद्रशेखर के आज़ाद बोल ‘चुनाव आने पर ही याद आते हैं आतंकी, असली आतंकवादी भाजपा में बैठे हैं’

नई दिल्ली/अलीगढ़ः आज़ाद समाज पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष चंद्रशेखर आज़ाद ने लखनऊ में एटीएस द्वारा गिरफ्तार किए गए संदिग्धों के बारे में कहा कि भाजपा को चुनाव आने पर ही आतंकी आते हैं, जबकि सच्चाई ये है कि असली आतंकवादी भाजपा में बैठे हैं। भीम आर्मी के संस्थापक और आज़ाद समाज पार्टी के सुप्रीमो सोमवार को बहुजन साइकिल यात्रा कार्यक्रम में शामिल होने अलीगढ़ आए थे।

पत्रकारों से बात करते हुए उन्होंने कहा कि भाजपा के पास यूपी के चुनाव के लिए कोई मुद्दा नहीं है। अब ऐसी चीजें (आतंकी घटनाएं) आएंगी। अगर कोई भी देश की सुरक्षा से खिलवाड़ करता है, तो उसके खिलाफ हैं। उसे सजा मिलनी चाहिए, लेकिन चुनावी एजेंडा सेट करने के लिए सरकार के लोगों ने किया है, तो जनता माफ नहीं करेगी। चुनाव के वक्त आतंकी आ जाते हैं और 10-12 साल के बाद निर्दोष होकर रिहा हो जाते हैं। इस खेल को जनता समझ चुकी है।

भाजपा में बैठे हैं असली आतंकवादी

आज़ाद समाज पार्टी के सुप्रीमो ने कहा कि असली आतंकवादी भाजपा में बैठे हैं, क्योंकि उन्होंने पंचायत चुनाव में बहनों का चीरहरण किया है। ऐसे आतंकवादियों के खिलाफ कब कार्रवाई होगी। उन्होंने कहा कि पूरे यूपी में बहुजन साइकिल यात्रा कार्यक्रम चल रहा है। यात्रा का उद्देश्य जाति तोड़ो, समाज जोड़ो, भाईचारा बनाओ है। पिछले साढ़े चार साल में यूपी में सांप्रदायिकता का माहौल है, जो वादा किया गया था, वह पूरा नहीं हो सका है। चंद्रशेखर ने कहा कि प्रदेश में हिंदू-मुस्लिम के नाम पर राजनीति नहीं होने दी जाएगी। इस बार धर्म पर नहीं मुद्दों पर चुनाव होगा।

चंद्रशेखर आज़ाद ने कहा कि 52 फीसदी ओबीसी को 27 फीसदी ओबीसी को आरक्षण क्यों दिया जा रहा है। कोरोना काल में झूठे मुकदमे दर्ज किए गए। भाजपा सरकार में दलित, मुस्लिम, महिलाएं, पुलिस, पत्रकार सुरक्षित नहीं हैं, क्योंकि सरकार निकम्मी हो चुकी है। इसलिए साइकिल यात्रा करके पेट्रोलियम पदार्थों की कीमतों का विरोध भी कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि पंचायत चुनाव में लोकतंत्र का अपहरण भाजपा ने किया है, जो उनके ताबूत पर आखिरी कील साबित होगा। वह कोर कमेटी के फैसले के बाद तय करेंगे किसी पार्टी से गठबंधन करें या नहीं। योगी सरकार तस्वीर हटाने व नाम बदलने वाली सरकार है।

लोकतंत्र के चलते हैं चुप, वर्ना बदल दें इतिहास व भूगोल

चंद्रशेखर ने नगला मान सिंह में कहा कि वह चमड़ा उतारना भी जानते हैं, उसका जूता बनाना भी जानते हैं और अगर संविधान व कानून को तोड़े तो उसके सिर पर जूता पटककर मारना भी जानते हैं। वह खाल उतारना भी जानते हैं और उसमें भूसा भी भरना भी जानते हैं।

वह केवल भारतीय संविधान के चलते चुप्पी साधे हैं। वर्ना, इतनी आबादी है कि एक दिन में इतिहास ही नहीं, बल्कि भूगोल भी बदल दें, लेकिन यह लोकतंत्र है। इसमें लड़ाई बंदूक, तलवार, गोली से नहीं लड़ी जाती है, बल्कि जिसके पास वोट होता है, उसका राज होता है। चंद्रशेखर ने कहा कि जिसका राज होता है, उसकी बहन-बेटियों पर कोई अत्याचार नहीं करता, कोई अपमान नहीं करता, जैसे हाथरस में हुआ था। वह अलीगढ़ के लोगों का धन्यवाद करते हैं, जिन्होंने हाथरस के मामले में सरकार की नींव हिला दी थी। उन्होंने कहा कि जब पुलिस, सुरक्षा एजेंसियां हैं तो बहन-बेटियों के साथ अत्याचार क्यों होता है। हत्याएं क्यों होती है। यह बर्दाश्त नहीं होगा। अपना राज कायम करना होगा। इसके लिए लोगों मदद करनी होगी।

बहुजन साइकिल यात्रा निकली

बहुजन साइकिल यात्रा में शामिल होकर आज़ाद समाज पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष चंद्रशेखर आज़ाद ने सियासी निशाना साधा। एक तरफ जहां अपने वोट बैंक को साधा। वहीं, भाजपा सरकार पर खूब बरसे। यात्रा नगला मानसिंह पीपल वाले चौक से शुरू होकर विभिन्न रास्तों से होते हुए निर्धारित जगह पर संपन्न हुई। यात्रा के आयोजन में पूर्व मंत्री महेंद्र सिंह सहित अन्य पार्टी के पदाधिकारियों की अहम भूमिका रही। इससे पहले पूर्व मंत्री महेंद्र सिंह के नेतृत्व में अलीगढ़ सीमा पर चंद्रशेखर आज़ाद का स्वागत किया।