देश

चंद्रशेखर बोले ‘देश के वंचित वर्ग को सड़कों पर जनसैलाब बनकर उतरने को मज़बूर किया जा रहा है।’

नई दिल्लीः आज़ाद समाज पार्टी के प्रमुख चंद्रशेखर आज़ाद ने निजीकरण के खिलाफ मोर्चा खोला हुआ है। उन्होंने कहा कि मैं निजीकरण के खिलाफ जल्दी एक बड़े आंदोलन की घोषणा करूँगा। सभी साथी तैयार रहें. जब सरकारी जॉब ही नही बचेगा तो आरक्षण कैसे बचेगा, निजीकरण करके आरक्षण को खत्म करने का आधार तैयार किया जा रहा है।

चंद्रशेखर आज़ाद ने हाल ही में आए सुप्रीम कोर्ट के उस फैसले पर बग़ावती तेवर दिखाए हैं जिसमें कोर्ट ने कहा है कि दिल्ली एनसीआर में रेलवे लाईन के आस पास बनी झुग्गियों को हटाया जाए। चंद्रशेखर ने कहा कि भाजपा सरकार कह रही संसद में सवाल नहीँ करना है,सुप्रीम कोर्ट कह रही है राजनीतिक दखलंदाजी नहीँ चलेगी और कोर्ट की शरण में भी नहीं जा सकते, देश के शोषितों, वंचितों पिछड़ों को फ़िर से सड़कों पर जनसैलाब बनकर उतरने को मज़बूर किया जा रहा है।

उन्होंने यूपी सरकार में बढ़ते अपराध के ग्राफ पर भी भाजपा सरकार पर निशाना साधा है। चंद्रशेखर ने कहा कि उत्तर प्रदेश में अपराध इस तरह हावी है कि अब नन्ही नन्ही बच्चियां भी सुरक्षित नहीं। लखीमपुर खीरी में 03 साल की बच्ची के साथ दुष्कर्म करके हत्या कर दी गई। मन बहुत ही व्यथित है। आवाज उठाइए ताकि परिवार को लड़ने की हिम्मत मिले। महीने में जिले में यह तीसरा रेप कांड है।

जानकारी के लिये बता दें कि भीम आर्मी के संस्थापक चंद्रशेखर ने इसी साल 15 मार्च को आज़ाद समाज पार्टी के नाम से एक राजनीतिक दल का गठन किया था। सीएए विरोधी आंदोलन का प्रमुख चेहरा रहे चंद्रशेखर आज़ाद समय समय पर केन्द्र की भाजपा सरकार पर संविधान को समाप्त करने का आरोप लगाते रहे हैं।