मनोरंजन शख़्सियत

सोफिया अपने ज़माने की सबसे खूबसूरत और सफल अभिनेत्री

अशोक पांडेय अपने करियर के शुरू में ही सोफिया समझ गयी थी कि एक अभिनेत्री के तौर पर उसे हॉलीवुड में भी सफलता मिलनी ही है. उसने भाषाएँ सीखना शुरू कर दिया – अंग्रेजी और फ्रेंच. उसने अकल्पनीय तेजी के साथ अंग्रेजी सीख ली. बहुत जल्द वह अपने ट्यूटर की मदद से टी. एस. इलियट […]

विशेष रिपोर्ट शख़्सियत

एलिजाबेथ डेविड की प्रेम कहानी, ‘जब खुद से 11 वर्ष बड़े अपने ‘इश्क’ के साथ देश से फरार हो गईं थीं एलिजाबेथ’

अशोक पांडेय कमाल की औरत थी एलिजाबेथ डेविड. 1912 में इंग्लैण्ड के एक अमीर परिवार में पैदा हुई एलिजाबेथ ने पेरिस में अभिनय की शिक्षा ली और थियेटर में काम करना शुरू कर दिया. उसकी मुलाक़ात चार्ल्स गिब्सन नाम के एक अभिनेता से हुई. चार्ल्स उससे उम्र में ग्यारह साल बड़ा और शादीशुदा था. दोनों […]

देश शख़्सियत

हमें कभी माफ़ न करना दद्दा ध्यानचंद, आपकी भविष्यवाणी बिल्कुल सच साबित हुई है।

अशोक पांडेय ध्यान चंद की आत्मकथा की प्रस्तावना लिखते हुए मेजर जनरल ए.ए. रुद्रा ने उन्नीस साल के ध्यान चंद को इस तरह याद किया है – “मैं ध्यान चंद को 1924 से जानता हूँ और उस मैच में मौजूद था जब उसे जादूगर की पदवी दी गयी. झेलम में पंजाब इडियन इन्फैंट्री टूर्नामेंट का […]

देश शख़्सियत

रघुवंश बाबू जिन्होंने जीवन भर समाजवादी विचारधारा के साथ कभी समझौता नहीं किया।

श्याम सिंह रघुवंश बाबू नहीं रहे…वैशाली बिहार से सांसद रहे रघु बाबू, लालू जी के खासम खास दोस्त थे। साल 2014 का चुनाव था, रघु बाबू के सामने थे रामा सिंह। रामा सिंह अपने समय में बिहार के सबसे बड़े बाहुबलियों में से एक रहे हैं। इनकी राजनीति रामविलास पासवान की छत्रछाया में गुजरी है। […]

इंसानियत की मिसाल शख़्सियत

28 सालों से लावारिसों मुर्दों के मसीहा बने हुए हैं शरीफ चाचा, इसी साल मिला है पद्म श्री

कृष्णकांत इंसानियत को कुचलने के लिए भीड़ की जरूरत है. इंसानियत को बचाने के लिए आपको अकेले चलना होता है. भीड़ आपको अकेला छोड़ देती है. अकेले पड़ने के बाद आप जो करते हैं, उसी से आपकी शख्सियत तय होती है. फरवरी, 1992. अयोध्या का मोहल्ला खिड़की अली बेग. यहां रहने वाले मोहम्मद शरीफ का […]

देश शख़्सियत

जब स्वामी कहलाने वाले कई लोग ‘कारपोरेट व्यापारी’ बनने लगे, तब भी अग्निवेश ने सत्ता की छाँव नही तलाशी।

उर्मिलेश स्वामी अग्निवेश का जाना बेहद दुखद! वह ऐसे समय गये हैं, जब उन जैसे लोगों की हमारे समाज को आज ज्यादा जरूरत है। स्वामी जी से मेरा परिचय सन् 1978 हुआ।। उन्हीं के यहां पहली दफा किसी वक्त कैलाश सत्यार्थी से भी परिचय हुआ–और भी बहुत सारे लोगों से स्वामी जी के यहां मुलाकात […]

मनोरंजन शख़्सियत

अमजद ख़ान उर्फ गब्बर की प्रेम कहानी

अशोक पांडेय ज़कारिया खान मूलतः पेशावर जिले से आए एक खूबसूरत पश्तून मर्द थे और भारतीय फिल्मों में अभिनय करते थे. स्क्रीन पर उन्हें जयंत नाम दिया गया था. बंबई में बांद्रा की जिस सोसायटी में रहते थे वहीं उर्दू के मशहूर शायर अख्तर-उल ईमान भी रहा करते थे. उत्तर प्रदेश के बिजनौर से ताल्लुक […]

शख़्सियत

जब संजीव भट्ट के ट्रांफसर पर दो हज़ार क़ैदियों ने छ: दिनों तक जेल में की थी भूख हड़ताल

श्याम मीरा सिंह बहुत कम लोग जानते होंगे कि 2002 से 2003 के बीच संजीव भट्ट साबरमती जेल में तैनात थे। तत्कालीन मुख्यमंत्री मोदी से अनबन के कारण साबरमती जेल से संजीव भट्ट का तबादला कर दिया गया। सरकार के इस फैसले के विरोध में जेल के लगभग 2000 कैदियों ने अगले 6 दिनों तक […]

rahat-indori_gfx
शख़्सियत

पूरे राहत इंदौरी की आधी अधूरी बात

दीपक असीम राहत इंदौरी के जाने के बाद गड़बड़ यह हो रही है कि कुछ लोग केवल उजला पहलू देखना चाहते हैं तो कुछ केवल काला। राहत इंदौरी बीच में हैं। बहुत सारे उजले भी और बहुत सारे काले भी। जैसे दोनों के बीच संतुलन बनाने की कोशिश कर रहे हों। करीब पंद्रह साल पहले […]

शख़्सियत

यादों में राहत इंदौरीः जिसने अपने कमरे में ताजमहल रखकर शाहों की मोहब्बत का भरम तोड़ा

वसीम अकरम त्यागी मुशायरों की दुनिया के बेताज बादशाह राहत इंदौरी का बीते मंगलवार को निधन हो गया। वे 70 वर्ष के थे. इंदौर के अरबिंदो अस्पताल में भर्ती राहत इंदौरी ने मंगलवार को शाम पांच बजे आख़िरी सांस ली, उन्हें इंदौर में ही सुपुर्द ए खाक किया गया. राहत इंदौरी ने अपनी शायरी के […]