देश

ASP प्रमुख चंद्रशेखर गिरफ्तार, बोले ‘किसान नाराज होगा तो कानून ही नहीं तोड़ेगा, सरकार की पीठ भी तोड़ देगा’

नई दिल्लीः केंद्र सरकार द्वारा हाल ही में बनाए गए कृषि कानूनों के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे किसानों ने आज भारत बंज का आह्वान किया है, किसानों का यह भारत सफल होता नज़र आ रहा है। किसानों के भारत बंद के आह्वान को विपक्षी पार्टियों ने भी समर्थन दिया है। विपक्षी दलों के कई नेताओं को पुलिस द्वारा नज़रबंद भी किया गया है। इसी कड़ी में आज़ाद समाज पार्टी के प्रुमख एंव भीम आर्मी के संस्थापक चंद्रशेखर आज़ाद को भी हिरासत में ले लिया गया है। यह जानकारी खुद चंद्रशेखर ने ट्वीट करके दी है।

चंद्रशेखर ने कहा कि भारत दोबारा से इमरजेंसी के दौर में चला गया है आज हमारे अन्नदाता किसानों को हमारी जरूरत है लेकिन योगी सरकार की पुलिस ने मुझे सुबह से ही नजरबंद कर दिया है। चंद्रशेखर ने कहा कि “दूसरे लोग जब सरकार से नाराज होते है, तो कानून तोड़ते है, पर किसान जब नाराज होगा तो कानून ही नहीं तोड़ेगा, सरकार की पीठ भी तोड़ देगा”।

बता दें कि किसानों द्वारा भारत बंद के आह्वान को समर्थन देते हुए चंद्रशेखर ने कहा था कि सरकार की तानाशाही के खिलाफ देश के अन्नदाताओं द्वारा आह्वान किए गए ‘भारत बंद’ को हमारा पूर्ण समर्थन है। चंद्रशेखर को हिरासत में लिये जान पर दलित एक्टिविस्ट कुश अंबेडकरवादी ने कहा है कि दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के बाद भीम आर्मी प्रमुख चन्द्रशेखर आज़ाद को पुलिस लगाकर किसान आंदोलन में शामिल होने से रोक दिया है। विपक्ष की आवाज को कुचला जा रहा है ताकि आंदोलन कमजोर पड़े लेकिन आंदोलन अब और बड़ा होगा।