अनुष्का ने विराट कोहली के लिए लिखा इमोशनल पोस्ट, ‘मुझे गर्व है कि आपने अपने नेक इरादों के रास्ते में कुछ नहीं आने दिया।’

नयी दिल्ली: विराट कोहली की भारतीय टेस्ट कप्तानी छोड़ने के कुछ घंटों बाद उनकी पत्नी अनुष्का शर्मा ने एक भावुक नोट लिखा। इंस्टाग्राम पर रविवार को लिखे एक लंबे पोस्ट में बॉलीवुड अभिनेत्री ने 2014 में उस दिन को याद किया, जब कोहली को एमएस धोनी की जगह कप्तानी दी गई थी। अनुष्का ने आगे कहा कि हमारी बेटी इन सात वर्षों की सीख, पिता में देखेगी।

अनुष्का ने कहा, “मुझे 2014 का वह दिन याद है, जब आपने मुझसे कहा था कि आपको कप्तान बनाया गया है, क्योंकि एमएस ने टेस्ट क्रिकेट से संन्यास लेने का फैसला कर लिया था। मुझे याद है एमएस, आप और मैं उस दिन चैट कर रहे थे और वह मजाक कर रहे थे कि आपकी दाढ़ी कितनी जल्दी ग्रे होने लगेगी। हम सभी इस पर हंस रहे थे। उस दिन से मैंने आपकी दाढ़ी के ग्रे होने के अलावा और भी बहुत कुछ देखा।”

अनुष्का ने कहा, “मैंने आपमें और आपके आस-पास डेवेलपमेंट देखा और हां, मुझे भारतीय राष्ट्रीय क्रिकेट टीम के कप्तान के रूप में आपके विकास पर और आपके नेतृत्व में टीम को मिली उपलब्धियों पर मुझे बहुत गर्व है, लेकिन मुझे आपके अपने भीतर जो विकास हुआ है, उस पर गर्व है।”

“2014 में हम युवा और भोले थे। यह सोचकर कि सिर्फ अच्छे इरादे, सकारात्मक कोशिश और मकसद आपको जीवन में आगे ले जा सकते हैं। हमने बहुत सारी चुनौतियों का सामना किया, लेकिन यह जीवन है? यह उन जगहों पर आपकी परीक्षा लेता है जहां आप इसकी सबसे कम उम्मीद करते हैं, और जहां आपको इसकी सबसे ज्यादा जरूरत है।”

“मेरे प्रिय, मुझे गर्व है कि आपने अपने नेक इरादों के रास्ते में कुछ नहीं आने दिया। आपने नेतृत्व में उदाहरण पेश किया और आपने हर जीत का जश्न मनाया और हार के बाद आपकी आंखों में आंसू देखे। मैंने आपको यह सोचते हुए देखा कि आप और बेहतर कर सकते हैं। आप ऐसे ही हैं। आप अपरंपरागत और सीधे-सादे हैं।

“बहाना आपका दुश्मन है और यही आपको मेरी नज़र में और आपके प्रशंसकों की नजर में महान बनाता है। क्योंकि इसके पीछे आपके नेक इरादे थे। वास्तव में हर कोई इसे नहीं समझ सकता है। जैसा मैंने कहा है , वास्तव में धन्य हैं वह जिन्होंने आपको देखा औऱ आपको जानने की कोशिश की।’

अभिनेत्री ने कहा, “आप परफेक्ट नहीं हैं और आप में खामियां हैं, लेकिन फिर भी आपने इसे छिपाने की कोशिश नहीं की? आपने जो किया वह हमेशा सही काम करने के लिए खड़ा होना था, हमेशा कठिन काम! आपने कभी भी लालच नहीं किया। मैं इस बात को जानती हूं। क्योंकि जब कोई किसी चीज को मजबूती से पकड़ता है, तो वे खुद को सीमित कर लेते हैं। “आपने अच्छा किया।”

गौरतलब है कि कोहली ने शनिवार को तत्काल प्रभाव से भारतीय टेस्ट टीम की कप्तानी छोड़ कर अपने फैसले से क्रिकेट जगत को चौंका दिया। 33 वर्षीय खिलाड़ी ने दिसंबर 2014 में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ पहली बार टेस्ट कप्तान के रूप में पदभार ग्रहण किया था। कोहली ने कप्तान के तौर पहली पारी में 115 रन बनाए थे। वह टेस्ट कप्तानी की शुरुआत में शतक बनाने वाले चौथे भारतीय बन गए। कप्तान के रूप में उनका आखिरी मैच केपटाउन में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ तीसरा और श्रृंखला-निर्णायक टेस्ट था, जिसे भारत ने 14 जनवरी को सात विकेट से गंवा दिया था।

सितंबर 2021 में कोहली ने घोषणा की थी कि वह टी20 विश्व कप 2021 के बाद टी20 नेतृत्व छोड़ देंगे। इवेंट के बाद बीसीसीआई ने कोहली को एक दिवसीय कप्तान के रूप में हटा दिया और रोहित शर्मा को नया कप्तान बना दिया था। बीसीसीआई अध्यक्ष सौरव गांगुली ने तर्क दिया था कि कोहली के टी20 कप्तानी छोड़ने के फैसले के कारण बोर्ड ने उन्हें एकदिवसीय कप्तान के पद से हटा दिया।

कोहली ने कहा कि उन्हें आधिकारिक घोषणा से 90 मिनट पहले ही बताया गया था कि उन्हें भारत के एक दिवसीय कप्तान के पद से बर्खास्त कर दिया गया है। मुख्य चयनकर्ता चेतन शर्मा ने कोहली के दावों का खंडन किया, जिसने विवाद को जन्म दे दिया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *