अजमेर: ‘दूसरे’ समुदाय के मोहल्ले में भीख मांग रहे भिखारी को बेटे सहित बेरहमी से पीटा, कहा ‘पकिस्तान जाओ’

देश में धार्मिक असहिष्णुता अपने चरम पर है आए दिन सोशल मीडिया पर विचलित करने वाले विडियो वायरल हो रहे है लेकिन प्रशासन कि नाकामी की वजह से अपराधियों में बिलकुल भी ख़ौफ़ नहीं है. आए दिन अल्पसंख्यक समुदाय के लोगों को बेरहमी से मारा पीटा जा रहा है ऐसा ही मामला कल मध्यप्रदेश के इंदौर में देखने को मिला जिसमे एक चूड़ियां विक्रेता मुस्लिम युवक को सिर्फ इसलिए पीटा गया क्यों की वह सामान बहुसंख्यक समुदाय के इलाके में बेंच रहा था।

ताजा मामला राजस्थान के अजमेर जिले का है जहां एक भिखारी को इसलिए पीटा गया है क्योंकि वह गलती से ‘दूसरे’ समुदाय की गली में चला गया था तथा वहां पर अपने लाउडस्पीकर को बजा रहा था तभी वहां पर एक हिंदुत्ववादी संगठन का नेता आ धमका और भिखारी तथा उसके नाबालिक बच्चे के साथ मारपीट करने लगा।

 

सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे विडियो में साफ देखा जा सकता है कि वह युवक को बेरहमी से पीटता है तथा साथ ही धार्मिक अपशब्द कहकर उसका अपमान करता है. इस दौरान कुछ लोग उसे बचाने की भी कोशिश करते नजर आते है और उसे वापिस उत्तर प्रदेश लौट जाने के लिए कहते है जहां से वह आया था।

प्राप्त जानकारी के अनुसार भिखारी से मार पीट करने का आरोपी ललित शर्मा है। वीडियो में साफ देखा जा सकता है कि कट्टरपंथी ललित शर्मा का एक भिखारी को पीटते हुए भी कलेजा नहीं पसीजा और फिर से उन्हें मारने पीटने लगता है वह ज्यादातर एक नाबालिक को निशाना बनाते हुए नजर आता है. साथ ही दावा करता है कि यह दूसरे राज्यो से आकर यहां लूट पाट जैसी घटनाओं को अंजाम देते है.

पीड़ित को पीटने के बाद उसे वहा से भगा दिया जाता है लेकिन उससे पहले उसे मुर्गा बनाया जाता है साथ ही कहा जाता है कि वह दरगाह परिसर से बाहर नहीं निकले क्यों की यह हमारा इलाका है। आपको बता दे की अजमेर में ही विश्व प्रसिद्ध ख्वाजा मोइनुद्दीन चिश्ती की दरगाह है जहां रोजाना हजारों जायरीन जियारत करने देश विदेश से आते है.

वायरल हो रहे वीडियो से साफ पता चलता है कि अपराधी एक समुदाय  विशेष से कुंठाग्रस्त है। उसे मुस्लिम समुदाय के बारे में अपशब्दों का इस्तेमाल करते हुए साफ देखा जा सकता है साथ ही पिटाई के दौरान वह पीड़ित को पाकिस्तान चले जाने के लिए कहता है.

 

सोशल मीडिया पर इस घटना का वीडियो वायरल होने के बाद राजस्थान पुलिस हरकत में आई। अजमेर पुलिस ने ट्वीट कर बताया कि आरोपी को गिरफ्तार कर लिया गया है। बता दें कि इससे पहले मध्यप्रदेश के इंदौर में हिंदुवादी संगठन के लोगों ने चूड़ी विक्रेता तस्लीम को मुसलमान होने की वजह से पीटा था। उस घटना का वीडियो वायरल होने के बाद पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ मामला दर्ज जरूर किया, लेकिन सोमवार को शाम होते-होते पीड़ित पर भी संगीन धाराओं में मुकदमा दर्ज किया गया।

Ashraf Hussain

Ashraf Hussain is an independent Journalist who reports on Hate crimes against minorities in India. He is also a freelance contributer for digital media, apart of this, he is a social media Activist, Content Writer and contributing as Fact Finder for different news website too.

4 thoughts on “अजमेर: ‘दूसरे’ समुदाय के मोहल्ले में भीख मांग रहे भिखारी को बेटे सहित बेरहमी से पीटा, कहा ‘पकिस्तान जाओ’

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *