योगी के बयान पर गुस्साए चंद्रशेखर, कहा ‘संघी एजेंडें में गैरबराबरी की गंदगी भरी है।’

नई दिल्लीः उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के बयान पर सियासत गरमा गई है। आज़ाद समाज पार्टी के सुप्रीमो और भीम आर्मी के संस्थापक चंद्रशेखर आज़ाद ने योगी के बयान पर पलटवार करते हुए उनके बयान की निंद की है। चंद्रशेखर ने कहा कि योगी जी का कल का बयान शर्मनाक ही नहीं बल्कि महिलाओं-दलितों के प्रति उनकी दोयम दर्जे की सोच भी दर्शाता है। सफाईकर्मी मेहनत कर देश की गंदगी साफ करने का महान काम करते हैं लेकिन संघी एजेंडें में गैरबराबरी की गंदगी भरी है।

उन्होंने कहा कि दलितों को कलम की जगह झाड़ू पकड़ाने का संघी एजेंडा हम कामयाब नहीं होने देंगे। सुन लीजिए योगी जी, ये देश मनु के विधान से नहीं बाबा साहेब के संविधान से चलेगा। दलित भी इस बार BJP की सत्ता से सफाई करने के लिए प्रतिबद्ध हैं।

जजों की नियुक्ति पर सवाल

आज़ाद समाज पार्टी के प्रमुख ने जजों की नियुक्ति पर भी सवाल उठाया है। उन्होंने कहा कि आज़ाद समाज पार्टी जब सत्ता में आएगी तो सुप्रीम कोर्ट और हाई कोर्ट में जजों की नियुक्ति ऑल इंडिया ज्यूडिशियल सर्विस परीक्षा से होगी और रिश्तेदारों को जज बनाना बंद होगा। जजों के पद SC, ST, OBC एवं माइनॉरिटी के लिए आबादी के अनुपात में आरक्षित होंगे।

चंद्रशेखर ने कहा कि न्यायपालिका संविधान के हिसाब से नहीं चल रही है। ऑल इंडिया ज्यूडिशल सर्विस बनी नहीं। जज अपनी जाति के लोगों को जज बना रहे हैं। कोर्ट में एससी, एसटी, ओबीसी के जज नाम मात्र के हैं। सुप्रीम कोर्ट में कोई महिला जज इन वर्गों से नहीं है। लगातार आरक्षण विरोधी फ़ैसले आ रहे हैं।

योगी की टिप्पणी

गोरखपुर में शुक्रवार को एक समाचार चैनल से बातचीत में कांग्रेस नेता प्रियंका गांधी वाड्रा के सीतापुर पीएसी गेस्ट हाउस में झाड़ू लगाने पर मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ ने कहा, “लोगों ने उन्हें इसी लायक छोड़ा है।”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *