अखिलेश यादव का ‘अन्‍न संकल्प’, ‘किसानों पर अत्याचार करने वालों को हटाएंगे’

0
140

लखनऊ: समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष और उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश अखिलेश ने सोमवार को सत्तारूढ़ भारतीय जनता पार्टी पर किसानों का उत्पीड़न करने का आरोप लगाते हुए ‘अन्न संकल्प’ लिया कि वे उसे चुनाव में हराएंगे और सत्ता से हटाएंगे।

सोमवार को समाजवादी पार्टी के मुख्यालय में आयोजित ‘अन्‍न संकल्प’ कार्यक्रम के दौरान सपा प्रमुख अखिलेश ने पत्रकारों से बातचीत करते हुए कहा, ‘हम सभी लोग संकल्प लेते हैं कि जिन्होंने किसानों पर अत्याचार और अन्याय किया है, उनको हराएंगे और हटाएंगे, यह हमारा अन्‍न संकल्प है।’

अखिलेश ने कहा, ‘हमारी अपील है कि किसान अन्नदाता भारतीय जनता पार्टी को हराएं और हटाएं, इस अन्‍न संकल्प से जुड़ें और इस फैसले को आगे बढ़ाएं।’

समाजवादी पार्टी के घोषणा पत्र का जिक्र करते हुए पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा, ‘सपा के घोषणा पत्र में बहुत सी चीजें आएंगी लेकिन आज अन्‍न संकल्प लेकर हम कहते हैं कि अपने घोषणा पत्र में शामिल करेंगे कि सभी फसलों के लिए एमएसपी (न्यूनतम समर्थन मूल्य) प्रदान की जाएगी और गन्ना किसानों को 15 दिन में उनका भुगतान सुनिश्चित किया जाएगा। इसके लिए ‘फार्मर्स रिवाल्विंग फंड’ बनाने का काम करेंगे जिससे किसानों का भुगतान नहीं रुके।’’

उन्होंने कहा, ‘‘ साथ ही साथ 300 यूनिट मुफ्त बिजली का सपा ने जो संकल्प लिया है, उसे भी घोषणा पत्र में शामिल करेंगे और सभी किसानों को सिंचाई के लिए मुफ्त बिजली दी जाएगी। ब्याज मुक्त कर्ज, बीमा एवं पेंशन की भी व्यवस्था किसानों के लिए की जाएगी।’

उन्होंने एक सवाल के जवाब में कहा, ‘किसान आंदोलन के दौरान किसानों पर जो मुकदमे लगे हैं, उन सभी मुकदमों को वापस लिया जाएगा। जिन किसानों की जान गई है, शहीद हुए हैं, उन किसानों के परिवारों को 25 लाख रुपये सरकार बनने पर दिया जाएगा।’

सपा मुख्यालय में ‘अन्‍न संकल्प’ के लिए लखीमपुर हिंसा में घायल हुए किसान नेता तेजिंदर विर्क को बुलाया गया था और उन्होंने सपा प्रमुख के साथ मिलकर हाथ में गेहूं और चावल लेकर पार्टी कार्यकर्ताओं और नेताओं को यह संकल्प दिलाया।

अखिलेश ने कहा कि ‘ ये तेजिंदर विर्क हैं, आप सब जानते होंगे जब लखीमपुर की घटना हुई तो कोशिश थी कि इन्‍हीं को कुचल दिया जाए, लेकिन भगवान की कृपा थी कि इनकी जान बच गई।’ उन्‍होंने कहा, ‘‘ …उन्होंने किसानों के ऊपर जीप चढ़ाई, अंग्रेजों की सरकार में भी किसानों पर ऐसा जुल्म नहीं हुआ जैसा भाजपा की सरकार में हुआ। जलियांवाला बाग में अंग्रेजों ने सीने पर गोली चलाई और यहां पर शांतिपूर्ण ढंग से आंदोलन खत्‍म कर घर जा रहे किसानों के ऊपर पीछे से जीप चढ़ाई। इसीलिए हम अन्‍न संकल्प ले रहे हैं कि जिन्‍होंने किसानों के साथ ऐसा व्यवहार किया है उनको हटाएंगे और हराएंगे।’

उल्लेखनीय है कि पिछले वर्ष तीन अक्टूबर को लखीमपुर खीरी में हुई हिंसा में चार किसानों और एक पत्रकार समेत आठ लोगों की मौत हो गई थी। भाजपा नेताओं और मुख्‍यमंत्री योगी आदित्यनाथ पर चुनाव आचार संहिता के उल्लंघन का आरोप लगाते हुए अखिलेश ने कहा, ‘भाजपा नेता, मुख्यमंत्री आचार संहिता का जगह-जगह उल्लंघन कर रहे हैं। समाजवादी पार्टी चुनाव आयोग से लिखित शिकायत करेगी। हमें उम्मीद है कि चुनाव आयोग इन पर सख्ती से नियमों का पालन करने के लिए आदेश करेगा।’

उन्‍होंने आरोप लगाया, ‘आज चुनाव आयोग की धज्‍जियां उड़ रही हैं, भाजपा के कार्यकर्ता व नेता हर जगह उसकी धज्जी उड़ा रहे हैं। सपा के कार्यालय में आएंगे तो नोटिस मिलेगी, एफआईआर होगी।’’