देश

अहमदाबादः ब्राह्मण महिला का आरोप ज़ैन धर्म अपनाने के लिये दबाव बना रहे हैं ससुराल वाले, शिकायत दर्ज़

अहमदबाद:  गुजरात के अहमदाबाद शहर के प्रह्लादनगर इलाके में रहने वाली एक 28 वर्षीय महिला, अपने ससुराल वालों पर धर्मांतरण का दबाव बनाने का मुकदमा दर्ज हुआ है। प्राप्त जानकारी के अनुसार महिला का जन्म एक ब्राह्मण परिवार में हुआ है, उसने शनिवार को पुलिस शिकायत दर्ज कराते हुए अपने ससुराल वालों पर जैन धर्म अपनाने का दबाव बनाने का आरोप लगाया।

आनंदनगर पुलिस स्टेशन में अपनी प्राथमिकी में, एक निजी फर्म के साथ काम करने वाली महिला ने कहा कि उसने एक निजी फर्म में काम करने वाले युवक जो जैन धर्म से संबंध रखता है, उससे शादी की थी। महिला ने कहा कि उसकी शादी इस साल 30 जनवरी को हिंदू रीति-रिवाजों के अनुसार हुई थी और उसने अपनी शादी 10 फरवरी को दर्ज करवाई थी।

महिला के मुताबिक़ उसके पति को जर्मनी में नौकरी मिली और वह 17 फरवरी को वहां चली गई। उसने कहा कि उसके पति ने उसे अपने साथ जर्मनी ले जाने का वादा किया था। हालाँकि, उसने अपना वादा नहीं निभाया और उसे उसके ससुराल छोड़ दिया। उसके पति के जर्मनी जाने के बाद, उसकी सास और ससुर, जो कि अलग-अलग प्राथमिक स्कूलों के शिक्षक हैं, ने उसे परेशान करना शुरू कर दिया। महिला ने आरोप लगाया कि उसके ससुराल वाले उस पर जैन धर्म अपनाने के लिए दबाव बनाया हुआ है।

महिला का कहना है कि जब भी वह विरोध करती, वे उसके साथ दुर्व्यवहार करते। जब जुलाई में उसका पति जर्मनी से लौटा, तो उसके ससुराल वालों ने कथित तौर पर उसे उसके खिलाफ भड़काया, जिसके बाद उसने कथित तौर पर उसका शारीरिक शोषण किया। ”एफआईआर का हवाला देते हुए आनंदनगर पुलिस स्टेशन के एक अधिकारी ने कहा। “महिला ने यह भी आरोप लगाया कि उसके ससुराल वालों और पति ने एक नया घर खरीदने के लिए दहेज की मांग की है। जब उसने इनकार कर दिया, तो उसके पति ने उसे जबरन अपनी कार में बैठाया और फिर उसे प्रह्लादनगर में उसके माता-पिता के पास छोड़ दिया।

तीन महीने के इंतजार के बाद, महिला ने पुलिस से संपर्क किया और घरेलू हिंसा अधिनियम के तहत शिकायत दर्ज की, जिससे दहेज निषेध अधिनियम के आरोपों के साथ चोट, आपराधिक धमकी का मामला दर्ज किया गया है।