8 विकेट लेकर इस भारतीय गेंदबाज ने मचाया कोहराम, 49 रन पर ढेर हुई पूरी टीम, खाता नहीं खेल सके 5 बल्लेबाज

क्रिकेट अनिश्चितताओं का खेल माना जाता है. आप कल्पना नहीं कर सकते की अगली गेंद पर क्या हो जाए. रणजी ट्रॉफी में उत्तराखंड और हिमाचल प्रदेश के बीच मैच में ऐसा ही कुछ हुआ है. जब 32 साल के एक गेंदबाज ने बेहतरीन गेंदबाजी की बदौलत 8 विकेट झटक लिए और विरोधी टीम को धराशाई कर दिया. हिमाचल प्रदेश की टीम पहले बल्लेबाजी करते हुए उत्तराखंड के खिलाफ सिर्फ 49 रन ही बना पाई. आइए जानते हैं, इसके बारे में.

हिमाचल प्रदेश के कप्तान ऋषि धवन ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने का फैसला किया. उनका ये फैसलाकुछ खास असरदार साबित नहीं हुआ. जब हिमाचल टीम की बल्लेबाजी बुरी तरह से बिखरी गई और टीम मिलकर सिर्फ 49 रन ही बना पाई.

हिमाचल के लिए सबसे ज्यादा रन अंकित कसेली ने बनाए. उन्होंने 26 रनों का योगदान दिया. वहीं, उत्तराखंड के लिए दीपक धपोला ने सबसे ज्यादा 8 विकेट हासिल किए और अभय नेगी के खाते में 2 विकेट गए.

हिमाचल प्रदेश के 32 साल के गेंदबाज दीपक धपोला ने कातिलाना गेंदबाजी की. उन्होंने 8.5 तीन ओवर में 35 रन देकर 8 विकेट हासिल किए. उन्होंने हिमाचल के बल्लेबाजों को क्रीज पर टिकने का मौका ही नहीं दिया और उनके आगे पूरी हिमाचल की बल्लेबाजी ताश के पत्तों की तरह धराशाई हो गई.

हिमाचल प्रदेश के 5 बल्लेबाज तो खाता ही नहीं खोल सके. उनके अलावा बाकी 5 ने दहाई के आंकड़े तक को नहीं छुआ. सिर्फ एक बल्लेबाज रहा, जिसने 26 रन बनाए.