वर्ल्डकप से पहले आमिर की पाकिस्तान टीम में वापसी संभव, PCB ने भेजा आमंत्रण

पाकिस्तान क्रिकेट टीम में इस समय काफी कुछ हो रहा है. जब से रमीज राजा को पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (पीसीबी) के चेयरमैन पद से हटाया गया है और नजम सेठी को कमान सौंपी गई है जब से लगातार बदलाव देखने को मिले है. पीसीबी ने नई चयन समिति बनाई है और अब वह अपने एक पुराने स्टार गेंदबाज की वापसी के लिए प्रयासरत है. पीसीबी ने पूर्व तेज गेंदबाज मोहम्मद आमिर को लाहौर स्थित नेशनल हाई परफॉर्मेंस सेंटर में बुलाया है.

रमीज राजा और आमिर के बीच अच्छे रिश्ते नहीं थे लेकिन सेठी के नेतृत्व में आया पीसीबी का नया निजाम आमिर का स्वागत करने को तैयार है. आमिर वो खिलाड़ी हैं जिसने पाकिस्तान को चैंपियंस ट्रॉफी-2017 का खिताब दिलाने में बड़ा रोल निभाया है. उन्होंने फाइनल में भारत के खिलाफ शानदार गेंदबाजी की थी.

आमिर को नेशनल हाई परफॉर्मेंस सेंटर में ट्रेनिंग करने से रोक दिया गया था. उन्होंने इंटरनेशनल क्रिकेट से संन्यास ले लिया था इसी कारण ये फैसला लिया गया था. पीसीबी के पूर्व चेयरमैन रमीज राजा ने उन सभी क्रिकेटरों पर इसी तरह के प्रतिबंध लगाए थे जिन्होंने संन्यास का ऐलान कर दिया था.

पीसीबी के नए चेयरमैन नजम सेठी ने सर्किट में आमिर की वापसी को मंजूरी दे दी है. पीसीबी ने आमिर को नेशनल हाई परफॉर्मेंटस सेंटर में बुलाया है. वह नजम सेठी के साथ बैठक भी कर सकते हैं.

इस खबर के सामने आने के बाद ये भी कयास लगाए जा रहे हैं कि आमिर की पाकिस्तान टीम में वापसी हो सकती है. पाकिस्तान को इस समय ऐसे गेंदबाज की जरूरत है जो अनुभवी हो अपने खेल से प्रभाव छोड़ सकता है. आमिर में इस तरह की काबिलियत भी है. एक समय आमिर दुनिया के बेहतरीन गेंदबाजों में गिने जाते थे. उनका स्विंग को खेलना आसान नहीं होता था.

आमिर वो गेंदबाज हैं जो 2010 में इंग्लैंड में फिक्सिंग में फंसे थे. उनके साथ उस समय के पाकिस्तान के कप्तान सलमान बट और मोहम्मद आसिफ भी फंसे थे. आमिर पर इसी कारण बैन लगा था और फिर उन्होंने वापसी की थी. वापसी करते हुए उन्होंने बेहतरीन खेल दिखाया था. आईसीसी चैंपियंस ट्रॉफी के फाइनल में उन्होंने भारत के खिलाफ जो गेंदबाजी की थी उसे आज भी याद किया जाता है. इस मैच में आमिर ने भारत के टॉप ऑर्डर को तहस-नहस कर दिया था और विराट कोहली, रोहित शर्मा जैसे खिलाड़ियों को पवेलियन की राह दिखाई थी.