पाकिस्तान की हार से टीम इंडिया को बड़ा फायदा, 10 साल बाद ICC ट्रॉफी जीतने का संयोग

बाबर आजम के नेतृत्व वाली पाकिस्तान क्रिकेट टीम को इंग्लैंड के खिलाफ टेस्ट सीरीज के दूसरे मैच में भी हार का सामना करना पड़ा है. इसी के साथ तीन मैचों की टेस्ट सीरीज में पाकिस्तान 0-2 से पिछड़ गई है. रावलपिंडी में खेले गए पहले टेस्ट मैच में भी उसे हार का सामना करना पड़ा था. सीरीज हार के बाद पाकिस्तान के वर्ल्ट टेस्ट चैंपियनशिप (WTC) 2021-23 के फाइनल में पहुंचने की उम्मीदें भी खत्म हो गई हैं. WTC की अंक तालिका में पाकिस्तान छठे स्थान पर खिसक गया है.

पाकिस्तान की इस साल ये तीसरी टेस्ट सीरीज हार है. पाकिस्तान के खिलाफ सीरीज जीतने का फायदा इंग्लैंड को हुआ है और तालिका में वह पांचवें स्थान पर पहुंच गया है. पाकिस्तान की इस हार का फायदा टीम इंडिया को भी हुआ है. वो चौथे स्थान पर है. पाकिस्तान और इंग्लैंड के पहले ही बाहर होने के बाद अब WTC फाइनल की रेस में ऑस्ट्रेलिया, दक्षिण अफ्रीका, श्रीलंका और भारत हैं. WTC के शेड्यूल में टीम इंडिया के 6 मैच बाकी हैं. फाइनल में पहुंचने के लिए उसे अपने 5 मैच जीतने होंगे.

टीम इंडिया अभी बांग्लादेश के दौरे पर है. उसे टेस्ट सीरीज में बांग्लादेश को 2-0 से शिकस्त देनी होगी. वहीं उसके बाद उसे ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ होने वाली टेस्ट सीरीज 4-0 या 3-1 या 3-0 से अपने नाम करनी होगी. बता दें टीम इंडिया ऑस्ट्रेलिया का सामना अगले साल घरेलू सरजमीं पर करेगी. वहीं, ऑस्ट्रेलिया और दक्षिण अफ्रीका की टीमें इस साल के आखिर में टेस्ट सीरीज में आमने-सामने होंगी.

श्रीलंका की बात करें तो WTC के इस शेड्यूल में उसका एक मैच बाकी है. ऐसे में टीम इंडिया के पास एक बार फिर फाइनल में पहुंचने का अच्छा खासा मौका है. टीम इंडिया टेस्ट चैंपियनशिप के पहले सीजन में फाइनल तक का सफर तय की थी. उसे खिताबी मुकाबले में न्यूजीलैंड के हाथों हार का सामना करना पड़ा था. भारतीय टीम अगर इस बार WTC जीत जाती है तो वह 10 साल बाद आईसीसी की किसी ट्रॉफी पर कब्जा करेगी.