टीम इंडिया ने तीसरी बार जीता वर्ल्डकप, फाइनल में BAN को रौंदा, 2 बल्लेबाजों ने ठोके शतक, भारत पर हुई पैसों की बारिश

भारतीय टीम ने शनिवार (17 दिसंबर) को दृष्टिबाधित टी20 विश्व कप के फाइनल में बांग्लादेश को हराकर खिताब अपने नाम कर लिया है। उसने लगातार बार टूर्नामेंट का फाइनल जीता है। टीम इंडिया इस मैच में 120 रनों से जीती। उसने पहले बल्लेबाजी करते हुए दो विकेट पर 277 रन बनाए। जवाब में बांग्लादेश की टीम 20 ओवर में तीन विकेट पर 157 रन ही बना सकी।

भारतीय टीम इससे पहले 2012 और 2017 में भी इस टूर्नामेंट को जीती थी। टीम इंडिया के लिए इस मैच में दो शतक लगे। सुनील रमेश ने 63 गेंद पर 136 रन की पारी खेली। वहीं, कप्तान अजय रेड्डी ने 50 गेंद पर 100 रन बनाए। बांग्लादेश की बात करें तो उसके लिए सिर्फ सलमान ही अपने बल्ले से कमाल दिखा पाए। उन्होंने 66 गेंद पर 77 रन बनाए। सलमान को किसी अन्य बल्लेबाज का साथ नहीं मिला।

भारत के लिए पारी की शुरुआत वी राव और सुनील रमेश ने की। राव 12 गेंद पर 10 रन बनाकर सलमान की गेंद पर आउट हो गए। उनके बाद बल्लेबाजी के लिए आए ललित मीणा खाता नहीं खोल सके और तीन गेंदों का सामना करने के बाद पवेलियन लौट गए। उन्हें सलमान ने क्लीन बोल्ड किया। दो विकेट गिर जाने के बाद कप्तान अजय रेड्डी और वी राव ने पारी को संभाला। दोनों ने विस्फोटक अंदाज में बल्लेबाजी की और अंत तक आउट नहीं हुए।

Imageविजेता टीम को तीन लाख रुपये और उपविजेता को 1.50 लाख रुपये मिले। सुनील रमेश को फाइनल में मैन ऑफ द मैच घोषित किया गया। उन्हें बी3 श्रेणी में मैन ऑफ द सीरीज भी मिला। भारतीय कप्तान अजय कुमार रेड्डी को बी2 वर्ग में मैन ऑफ द सीरीज चुना गया। बांग्लादेश के मोहम्मद महमूद राशिद बी1 श्रेणी में मैन ऑफ द सीरीज रहे।