जिसे चयनकर्ताओं ने नहीं समझा था टी20 विश्व कप के लायक, अब उसी ने बचाई टीम इंडिया की लाज

टीम इंडिया (Team India) ने टी20 वर्ल्ड कप 2022 के सुपर-12 राउंड का आगाज जीत के साथ किया. हालांकि इसके बाद लगातार दो मुकाबले जीतने के बाद साउथ अफ्रीका ने उनके जीत पर पूर्णविराम लगाया। साउथ अफ्रीका के खिलाफ भारत इस राउंड का अपना तीसरा मुकाबला खेल रही थी जिसमें उन्हें विपक्षी टीम के हाथों 5 विकेट से हार का सामना करना पड़ा। वहीं टीम इंडिया को बांग्लादेश के विरुद्ध मुश्किल से जीत दर्ज हुई|

अफ्रीका के विरुद्ध मुकाबले में टीम की बल्लेबाजी बेहद ही खराब रही। केवल सूर्यकुमार यादव के अलावा कोई भी बल्लेबाज रन बनाने में कामयाब नहीं हो पाया। हालांकि खराब बल्लेबाजी के बाद टीम की गेंदबाजी भी कुछ खास नहीं रही और अनुभवी गेंदबाज आर अश्विन से लेकर युवा गेंदबाज अर्शदीप सिंह भी विपक्षी टीम पर रन लुटवाते हुए दिखे।

इसी बीच टीम इंडिया (Team India) का एक खिलाड़ी ऐसा भी रहा जिसने टीम की लाज बचाने की बेहद कोशिश की लेकिन कामयाब न हो सका। वैसे तो इस खिलाड़ी की खास बात ये थी कि उसे टीम के स्कॉड में भी जगह नहीं मिली थी।
शमी को टीम इंडिया में नहीं मिली थी जगह

साउथ अफ्रीका के खिलाफ पहले बल्लेबाजी करते हुए टीम इंडिया (Team India) 20 ओवर में महज 133 रन ही बनाने में कामयाब हो पायी थी। इस दौरान टीम की बल्लेबाजी बेहद ही खराब रही। सूर्यकुमार यादव पारी को संभालते हुए 40 गेंदों में 68 रनों की पारी खेलकर आउट हुए थे। उनके अलावा कोई भी बल्लेबाज 20 का आंकड़ा भी पार करने में कामयाब न हो सका।

शमी Mohammad Shami ने ऑस्ट्रेलिया के विरुद्ध दिलाई अविश्वसनीय जीत

बल्लेबाजी में फ्लॉप होने के साथ टीम इंडिया की गेंदबाजी भी कुछ खास नहीं था लेकिन इसी बीच टीम का एक अनुभवी तेज गेंदबाज जिसे सेलेक्टर्स ने स्कॉड में जगह भी नहीं दिया था, उसने टीम इंडिया (Team India) को आखिरी पलो तक जीत दिलाने में अहम भूमिका निभाई थी। हालांकि अबतक तो अंदाजा लग ही रहा होगा कि ये खिलाड़ी कोई और नहीं बल्कि मोहम्मद शमी Mohammad Shami हैं।

मोहम्मद शमी ने साउथ अफ्रीका के खिलाफ की अच्छी गेंदबाजी

जहां एक तरफ रविचंद्रन अश्विन और अर्शदीप सिंह जमकर विपक्षी टीम पर रन लुटा रहे थे तो इसी बीच मोहम्मद शमी Mohammad Shami ने अच्छी गेंदबाजी करते हुए अफ्रीका की पारी पर लगाम लगाने की कोशिश की थी। अपनी गेंदबाजी के दौरान वो भले ही 1 विकेट लेने में कामयाब रहे लेकिन Mohammad Shami रन का बचाव भी करते हुए दिखे।

बांग्लादेश के विरुद्ध भी चमके शमी

जहां अश्विन ने 10 से भी ज्यादा की इकोनॉमी रेट से 4 ओवर में 43 रन लुटवा दिये तो वहीं अर्शदीप सिंह ने 6.25 की इकोनॉमी रेट से रन दिये। इसी बीच मोहम्मद शमी Mohammad Shami  ने 4 ओवर में महज 13 रन ही खर्च किये और इस दौरान उनका इकोनॉमी रेट 3.20 रहा। इस मुकाबले में शमी Mohammad Shami ने अपनी गेंदबाजी से सभी को प्रभावित भी किया।

बुमराह की जगह मिली थी शमी को टीम में जगह

Imageमोहम्मद शमी Mohammad Shami  को टी20 वर्ल्ड कप के लिए टीम इंडिया (Team India) के स्कॉड में शामिल नहीं किया गया था। उन्हें स्टैंड बाई के तौर पर रखा गया था। बता दें कि जसप्रीत बुमराह के चोटिल होकर इस टूर्नामेंट से बाहर होने के बाद मोहम्मद शमी Mohammad Shami को टीम के स्कॉड में जगह मिली। इसके अलावा Mohammad Shami पिछले एक साल से ही टीम इंडिया (Team India) की प्लेइंग इलेवन से बाहर चल रहे थे।

शमी ने अपने अनुभव को झोका

अपना आखिरी टी20 मुकाबला मोहम्मद शमी Mohammad Shami  ने साल 2021 टी20 वर्ल्ड कप के दौरान ही खेला था जहां उन्होंने कुल 5 मैचों में 6 विकेट चटकाये थे। पिछले साल खेले गये टी20 वर्ल्ड कप के बाद उन्हें सीधा इस साल के टी20 वर्ल्ड कप में मौका दिया गया है, जहां वो अपनी गेंदबाजी से कहर बरपाने में कामयाब हो रहे हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *