जिम्बाब्वे ने रचा इतिहास, ऑस्ट्रेलिया को 3 विकेट से हराकर मचाया तहलका, टूटा 39 साल का रिकॉर्ड

0
273

ऑस्ट्रेलिया और जिम्बाब्वे के बीच तीन मैच के वनडे सीरीज के आखिरी मुकाबला टाउन्सविले के टोनी आयरलैंड स्टेडियम में खेला गया. इस मैच में जिम्बाब्वे ने ऑस्ट्रेलिया को 3 विकेट से हराकर मेजबान टीम के क्लीन स्वीप के सपने को तोड़ दिया.

Image

जिम्बाब्वे के आमंत्रण पर पहले बल्लेबाजी करने उतरी ऑस्ट्रेलियाई ताश के पत्तों की तरह बिखर गई. पांच बार की विश्व चैंम्पियन रही कंगारू टीम यहां 50 ओवर भी पूरे नहीं खेल सकी. कंगारू टीम मात्र 31 ओवर में 141 रन पर सिमट गई.

जवाब में जिम्बाब्वे ने 39 ओवर में 3 विकेट शेष रहते हुए मैच जीत लिया. जिम्बाब्वे के लिए कप्तान चकब्बा ने सबसे ज्यादा 37 रन की पारी खेली. वह आखिर तक नाबाद रहे. इसके अलावा सलामी बल्लेबाज मारूमानी ने 35 रन बनाकर टीम की जीत में अहम योगदान दिया.

इतिहास का सबसे छोटा स्कोर
ऑस्ट्रेलिया और जिम्बाब्वे के बीच 1983 से वनडे मैच खेले जा रहे हैं. 39 साल के इतिहास में यह पहला मौका है कंगारू टीम जिम्बाब्वे के सामने इतने छोटे स्कोर पर ढेर हुई है. शनिवार को ऑस्ट्रेलियाई टीम केवल 141 रन पर सिमट गई. इससे पहले ऑस्ट्रेलिया का जिम्बाब्वे के विरूद्ध न्यूनतम स्कोर 209/9 रन था. जो कि उसने 2014 में हरारे में बनाया था.

रेयान की कातिलाना गेंदबाजी
जिम्बाब्वे के लिए रेयान बर्ल ने कातिलाना प्रदर्शन करते हुए 10 रन देकर 5 विकेट लिए. उन्होने ऑस्ट्रेलिया के अंतिम 5 विकेट मात्र 12 रन के भीतर पवेलिन भेज दिए. रेयान ने वार्नस, एगर, मैक्सवेल, स्टार्क और हेजलवुड को आउट किया. बर्ल के अलावा ब्रैड इवेन ने 2 विकेट लिए.

वार्नर शतक से चूके
ऑस्ट्रेलिया के लिए सबसे ज्यादा रन डेविड वार्नर ने बनाए. उन्होने 96 गेंदों पर 94 रन बनाए. वह अपने शतक से 6 रन दूर रह गए. वार्नर ने अपनी पारी में 14 चौके और 2 छक्के लगाए. इसके अलावा मैक्सवेल (19) को छोड़कर कोई भी बल्लेबाज दहाई का आंकड़ा नहीं छु सका. एक समय कंगारू टीम का स्कोर 5 विकेट खोकर 129 रन था. लेकिन इसके बाद पूरी टीम ताश के पत्तों की तरह ढह गई.

Image

जिम्बाब्वे के खिलाफ ऑस्ट्रेलिया के न्यूनतम स्कोर-
141/10 – टाउन्सविले, 2022
209/9 – हरारे, 2014
225/8 – सिडनी, 2004
235/9 – चेन्नई, 1987

जिम्बाब्वे ने तीसरी बार ऑस्ट्रेलिया को हराया
जिम्बाब्वे ने तीसरी बार कंगारू टीम को वनडे में शिकस्त दी है. इससे पहले 1983 विश्वकप के दौरान ही अपने डेब्यू मैच में ही जिम्बाब्वे ने ऑस्ट्रेलिया को 13 रन से हराया था. इसके बाद दूसरी बार 2014 में हरारे में खेले गए मैच में ऑस्ट्रेलिया को 3 विकेट से शिकस्त दी थी.

Leave a Reply