चेतेश्वर पुजारा ने रचा इतिहास, वनडे क्रिकेट में मचाया गदर, बाबर-कोहली को भी पीछे छोड़ा

0
113

चेतेश्वर पुजारा के लिए काउंटी क्रिकेट में खेलने से आसान काम जैसे इस समय कुछ भी नहीं है. उन्होंने बल्लेबाजी को मजाक बनाकर रख दिया है और शतक उनके बाएं हाथ का खेल हो चुके हैं. इंटरनेशनल क्रिकेट में रनों से जूझते रहे इस बल्लेबाज के लिए काउंटी का मैदान एक बड़ी सकरात्मकता लेकर आया है जिसको वे भारत के लिए अपने करियर में भी इस्तेमाल कर सकते हैं. चेतेश्वर पुजारा इस समय ससेक्स के लिए खेल रहे हैं और इस काउंटी के वारे न्यारे कर चुके हैं.

Cheteshwar Pujara scores third hundred of Royal London Cup pujara hammered 132 off 90 balls|Cheteshwar Pujara: इंग्लैंड में शतक ही शतक बरसा रहे पुजारा, अचानक बदल गया बैटिंग का अंदाज| Hindi News

टेस्ट में मचाया था गदर
पुजारा ने काउंटी चैंपियनशिप डिविजन 2 में 13 पारियों में 109.40 की औसत से 1094 रन बनाए थे जिसमें तीन दोहरे शतक समेत कुल 5 शतक शामिल थे.

इसके बाद 50 ओवर का रॉयल लंदन वनडे कप शुरू होता है जहां पर भारत का टेस्ट स्पेशलिस्ट फिर से अपनी बल्लेबाजी की कला का प्रदर्शन करता है. इसमें भी पुजारा का बल्ला इतना चल रहा है कि उन्होंने अभी तक खेले पांच मैचों में तीसरी सेंचुरी जड़ दी है. इसके साथ ही पुजारा ने भारत के पूर्व कप्तान विराट कोहली और पाकिस्तान की बल्लेबाजी सनसनी और सभी फॉर्मेट के कप्तान बाबर आजम को पीछे छोड़ दिया है.

कोहली और बाबर को  पीछे छोड़ा
पुजारा ने 75 गेंदों पर शतक लगाया और 90 गेंदों पर 132 रन बनाए. इसके अलावा टीम के ओपनिंग बल्लेबाज टॉम एलोस्प ने भी नाबाद 189 रन बनाए जिसके चलते ससेक्स को ग्रुप-ए के मुकाबले में मिडिलसेक्स के खिलाफ चार विकेट के नुकसान पर 400 रनों का महाकाय इसको बनाने में सफलता हासिल हुई.

अपनी इस बेहतरीन पारी के दम पर कोहली और आजम को पछाड़कर चेतेश्वर पुजारा लिस्ट ए क्रिकेट में कम से कम 100 पारियों में दूसरे सर्वोच्च बल्लेबाजी औसत को प्राप्त करने वाले बल्लेबाज बन गए हैं.

माइकल बेवन से ही पीछे हैं
यह दाएं हाथ का बल्लेबाज 109 पारियों में 57.48 के औसत से बैटिंग कर रहा है जो ऑस्ट्रेलिया के माइकल बेवन से थोड़ा ही कम है. माइकल बेवन 153 पारियों में 57.8 की औसत पर थे. इसके बाद बाबर आजम आते हैं जिन्होंने 153 पारियों में 56.56 की औसत से बल्लेबाजी की है जबकि विराट कोहली 286 पारियों में 56.60 की औसत से बैटिंग कर चुके हैं.

रन मशीन बने  चेतेश्वर पुजारा
इस शतक के साथ ही चेतेश्वर पुजारा प्रतियोगिता में 500 रन पार करने वाले केवल दूसरे बल्लेबाज बन चुके हैं. अपनी 132 रनों की पारी के दम पर उन्होंने मिडिलसेक्स को 157 रनों के बड़े अंतर से हराने में कामयाबी हासिल की. अभी तक पुजारा आठ पारियों में 614 रन बना चुके हैं और मशीन की तरह इस काम में लगातार लगे हुए हैं.

Leave a Reply