उनादकट के तूफान में उड़ी दिल्ली, हैट्रिक समेत 8 विकेट लेकर रचा इतिहास, बना डाला 88 साल का धांसू रिकॉर्ड

रणजी ट्रॉफी में दिल्ली और सौराष्ट्र (Saurashtra vs Delhi, Elite Group B) के बीच खेले जा रहे मुकाबले में सौराष्ट्र के तेज गेंदबाज और कप्तान जयदेव उनादकट ने इतिहास रच दिया. उनादकट ने पहले ओवर में ही हैट्रिक बनाई. जयदेव ने कातिलाना गेंदबाजी करते हुए 8 विकेट लिए. जिसके दम पर दिल्ली की टीम 133 रन पर सिमट गई.

सौराष्ट्र के तेज गेंदबाज और कप्तान जयदेव उनादकट ने अपनी गेंदबाजी से ऐसा कहर मचाया कि देखने वाले हैरान रह गए. बाएं हाथ के तेज गेंदबाज जयदेव ने दिल्ली के खिलाफ रणजी मैच में सिर्फ 12 गेंदों में अपना फाइव विकेट हॉल पूरा कर लिया.
जयदेव उनादकट ने पहले ही ओवर में अपनी हैट्रिक पूरी की. उन्होंने तीसरी गेंद पर ध्रुव शौरे को आउट किया. उसके बाद वैभव रावल उनका शिकार हुए और दिल्ली के कप्तान यश धुल उनकी पहली ही गेंद पर आउट हो गए.

जयदेव उनादकट ने पहले ओवर में ली हैट्रिक, WWWWWW..लेकर दिल्ली को तबाह किया, 88 साल का सुखा खत्म

मैच में जयदेव ने अपने दूसरे ओवर में भी दो विकेट चटका दिए. जयदेव ने जॉन्टी सिद्धु और ललिता यादव को पवेलियन भेजा. उनादकट की गेंदबाजी के समक्ष दिल्ली ने महज 10 रनों पर अपने 7 विकेट गंवा दिए.

जयदेव उनादकट ने सौराष्ट्र क्रिकेट स्टेडियम में गेंद से धमाल किया. जयदेव की स्विंग और लेंग्थ के सामने दिल्ली की टीम ने घुटने टेक दिए . ध्रुव शौरे को उनादकट ने बोल्ड किया और उसके बाद वैभव रावल को उन्होंने देसाई के हाथों कैच आउट कराया.

दिल्ली के कप्तान यश धुल को इस खिलाड़ी ने LBW आउट कर अपनी हैट्रिक पूरी की.
जॉन्टी सिद्धू भी उनादकट की बेहतरीन गेंद का शिकार हुए. मैच में ललित यादव को उनादकट ने LBW किया. उनादकट ने विकेटकीपर लक्ष्य को भी LBW कर अपना छठा शिकार बनाया. उनादकट ने 6 में से 4 बल्लेबाजों को तो खाता ही नहीं खोलने दिया. रणजी के 88 साल के इतिहास में पहली बार ऐसा हुआ है कब किसी गेंदबाज ने पहले ओवर में हैट्रिक ली. इंटरनेशनल क्रिकेट में भारत के इरफान पठान यह कारनामा कर चुके हैं.